जागरण संवाददाता, अमृतसर

जिला के व्यापारियों ने पंजाब सरकार के नशों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में अपना सहयोग देते हुए शुक्रवार को 4.40 लाख रुपये की वित्तीय मदद की है। व्यापारियों ने यह मदद सहायक आबकारी व कर कमिश्नर अमृतसर-1 की सहायता से नशों से पीड़ित मरीजों के इलाज और उनके पूनर्वास में इस्तेमाल किए जाने के उद्देशय रेड क्रास को दिए। डिप्टी कमिश्नर कमलदीप ¨सह संघा ने व्यापारियों की इस पहल की सराहना

करते हुए कहा कि इससे प्रेरित होकर अन्य लोग भी इस काम में सरकार के सहयोग के लिए आगे आएंगे। डीसी संघा ने व्यापारियों के साथ बातचीत में कहा कि पंजाब सरकार की ओर से नशे से ग्रसित लोगों का मुफ्त इलाज किया जा रहा है। व्यापारियों की तरफ से दिया गया यह सहयोग काफी फायदेमंद साबित होगा। अन्य शहरवासियों को भी इसके लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने रेड क्रास की ओर से चलाई जा रही अलग-अलग स्कीमों बाबत दानी सज्जनों को जानकारी दी। जहां उन्होंने 10 रुपये में गरीब और जरुरतमंद को रोटी दिए जाने की बात कही वहीं रेड क्रास की ओर से चलाए जा रहे पंघूड़े ने 163 बच्चों की जान भी बचाई है।

डीसी संघा ने सहायक कमिश्नर आबकारी अमृतसर-1 अमनदीप कौर की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्होंने, ईटीओज और इंस्पेक्टरों ने कुछ दिनों में व्यापारियों के साथ मिलकर रेड क्रास के लिए प्रेरित किया है। अमनदीप कौर ने विशेष जरूरत वाले बच्चों के लिए यूनिफार्म के सेट भी डीसी को दिए। उन्होंने बताया कि इस राशि में 1.25 लाख रुपये आईडीएच मार्कीट की ओर से दिए गए हैं। इस मौके व्यापारियों ने डीसी को सुझाव

दिया कि शहर की हर मार्कीट में रेड क्रास का बक्से लगाए जाएं ताकि व्यापारी हर रोज उसमें कुछ न कुछ अपना हिस्सा डाल सकें।

इस मौके पर सहायक कमिश्नर (शिकायतें) अलका कालिया, कुलबीर ¨सह, प¨वदर कौर, सुखनंदन (सभी ईटीओज), संदीप कुमार, राज¨वदर, राजेश कुमार (इंस्पेक्टर) के अलावा व्यापारियों की ओर से म¨हदर ¨सह, समेर रामपाल, जो¨गदर ¨सह, धीरज अग्रवाल, गौतम भल्ला आदि भी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran