लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में विधानसभा उप चुनाव में रामपुर सदर से डॉ. तजीन फात्मा के विधायक चुने जाने के बाद अब राज्यसभा के उप चुनाव का मतदान होना है। मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश ने गुरुवार को इस खाली सीट पर मतदान की तिथि 12 दिसंबर तय की है। डॉ. तजीन फात्मा का कार्यकाल 25 नवंबर 2020 तक का है। 

समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता और रामपुर से सांसद आजम खां की पत्नी डॉ. तजीन फात्मा रामपुर सदर से विधायक निर्वाचित हुई हैं। रामपुर सीट पर आजम खां की पत्नी और सपा उम्मीदवार तजीन फात्मा ने जीत दर्ज की। तजीन फात्मा ने भाजपा के उम्मीदवार भारत भूषण को 7,727 वोटो से मात दी । तजीन फात्मा को 79037 वोट मिले, जबकि भाजपा के भारत भूषण को 71310 वोट मिले।

डॉ. तजीन फात्मा ने बीते दिनों विधानसभा सदस्य के रूप में शपथ भी ली है। उनके विधायक निर्वाचित होने के बाद से राज्यसभा की एक सीट खाली हो गई है। इस खाली सीट पर भाजपा की निगाह लग गई है। इस खाली सीट पर निर्वाचन आयोग ने चुनाव कराने का एलान किया है। इसके लिए 25 नवंबर से नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। नामांकन की अंतिम तिथि दो दिसंबर है। तीन तक नामांकन पत्रों की जांच होगी जबकि पांच दिसंबर को नाम वापस लेने की अंतिम तिथि है।

राज्यसभा की खाली सीट के लिए उप चुनाव का मतदान 12 दिसंबर को होगा। सुबह नौ से शाम चार बजे तक मतदान होगा जबकि पांच बजे से मतगणना होगी। इसका परिणाम भी 12 दिसंबर को घोषित किया जाएगा। इस खाली सीट पर निर्वाचन सम्पन्न कराने की अंतिम तिथि 16 दिसंबर है। राज्यसभा उप चुनाव के लिए तारीख घोषित होने के बाद अब सभी राजनैतिक दलों ने कमर कस ली है। प्रदेश में संख्या बल के अनुसार भाजपा प्रत्याशी का जीतना तय माना जा रहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस