देवरिया, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में सात सीट पर होने वाले विधानसभा उप चुनाव में मतदान से पहले ही मारपीट शुरू हो गई है। मामला देवरिया का है, जहां पर एक महिला कार्यकर्ता तारा यादव से कांग्रेस के नेताओं ने मंच पर ही हाथापाई की। इसका वीडियो भी काफी वायरल हो रहा है। 

महिला नेता तारा देवी कहना है कि वह चार साल से पार्टी सदस्य हैं। कांग्रेस प्रत्याशी मुकुंद भास्कर मणि त्रिपाठी पर दुष्कर्म का आरोप है। उसे टिकट देकर गलत हुआ है। हम चाहते हैं कि साफ सुथरी छवि के लोगों को टिकट दिया जाए। यही बात करने के लिए सचिन नायक के पास पहुंची थी, जहां पर यह हंगामा हुआ है। मैंने सचिन नायक को नहीं मारा है। मैं बात करने के लिए पूछने गयी थी कि ऐसे लोगो को टिकट क्यों दिया गया है।

पार्टी की नेता तारा यादव ने मुकुंद भास्कर मणि त्रिपाठी को टिकट देने पर ऐतराज जताया, जिसके बाद उनके साथ कार्यक्रम में पार्टी कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी की। तारा यादव ने आरोप लगाया कि पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट की, जब वह एक दुष्कर्मी मुकुंद भास्कर मणि त्रिपाठी को टिकट के पार्टी के फैसले पर सवाल उठा रही थीं। जिस पर वहां कांग्रेस के कार्यकर्ता मुझे मारने पीटने लगे। उन्होंने मामले के संबंध में प्रियंका गांधी से भी जवाब मांगा है। पिटाई से आहत तारा यादव को अब कांग्रेस की उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा के आगमन के साथ इस प्रकरण में हस्तक्षेप का इंतजार है।

उनका आरोप है कि पार्टी के कार्यकर्ताओं ने उनको इसलिए पीटा है, क्योंकि मैंने विधानसभा उप चुनाव में दुष्कर्मी मुकुंद भास्कर मणि त्रिपाठी को टिकट देने के पार्टी के फैसले पर सवाल उठाया है। तारा ने कहा कि अब तो मैं प्रियंका गांधी जी की प्रतीक्षा कर रही हूं। वह एक महिला हैं और पार्टी की महिला नेता के साथ मारपीट की इस घटना पर कुछ न कुछ जरूर करेंगी। उन्होंने मामले के संबंध में प्रियंका गांधी से भी जवाब मांगा है। उन्होंने कहा कि वह अब प्रियंका गांधी के जवाब का इंतजार कर रही हैं कि वह इस मामले में क्या ऐक्शन लेती हैं।

तारा ने कहा कि एक तरफ हमारी पार्टी की नेता हाथरस केस की पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए लड़ाई लड़ रही हैं, दूसरी तरफ पार्टी का टिकट एक रेपिस्ट को दिया जा रहा है। यह एक गलत फैसला है। उन्होंने कहा कि पार्टी का यह फैसला कांग्रेस की छवि को खराब करेगा।

देवरिया सदर सीट से कांग्रेस प्रत्याशी मुकुंद भास्कर मणि त्रिपाठी को टिकट देने के पार्टी के फैसले के खिलाफ महिला कार्यकर्ता तारा यादव ने जमकर हंगामा किया है। तारा यादव उन्हेंं टिकट मिलने से नाराज है। जब उन्होंने मंच पर इसका विरोध किया तो वहां पर कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट भी की है। इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है। तारा यादव ने कहा कि पार्टी ने गलत आदमी को टिकट दिया जो दुष्कर्मी है। मैं मंच पर अपनी बात राष्ट्रीय मंत्री सचिन नायक से रख रही थी कि आपने गलत आदमी को टिकट दिया है। इससे समाज में पार्टी की छवि खराब होगी। आप टिकट किसी और को दे दीजिए जिसका चरित्र अच्छा हो। इतनी सी बात करने पर वहां पर मेरे साथ मार पीट की गई। 

महिला आयोग ने संज्ञान में लिया मामला

महिला आयोग ने इस मामले को संज्ञान में लिया है। आयोग की चेयरपर्सन रेखा शर्मा ने कहा कि हमने इस घटना को संज्ञान में लिया है, जिसमें तकरीबन 25 लोग एक महिला नेता को पीट रहे हैं।

यह गंभीर मसला है जब हम कह रहे हैं कि महिलाओं को पॉलिटिक्स में शामिल होना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनीतिक लोग महिला कार्यकर्ताओं के साथ गुंडों की तरह बर्ताव करते हैं। अब वक्त है कि उन्हें दंड मिलना चाहिए।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021