नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। फर्जी सीबीआइ अधिकारी बनकर उत्तम नगर विधानसभा क्षेत्र के विधायक नरेश बाल्यान से ठगी करने की कोशिश का मामला सामने आया है। फर्जी सीबीआइ अधिकारी बनकार बदमाशो ने विधायक से एक करोड़ रुपये लेने की कोशिश की। विधायक की शिकायत पर आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। नरेश बाल्यान ने पुलिस उपायुक्त कार्यालय को मामले की शिकायत दी थी।

विधायक ने शिकायत में बताया कि कुछ दिनों पहले उनके कार्यालय में दो युवक आए। दीपक नाम के युवक ने खुद को सीबीआइ इंस्पेक्टर बताया और विधायक से उनके खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला दर्ज होने की बात कही।

आय से अधिक मामला दर्ज करने की धमकी 

आरोपितों ने उनसे कहा कि यदि आप मामले को सुलझाना चाहता हैं तो आपको एक करोड़ देने होंगे। बाद में आरोपितों ने मांगी रकम को कम कर दस लाख कर दिया। इस बीच विधायक ने पुलिस को मामले से अवगत करा दिया। पांच नवंबर को जब आरोपित विधायक कार्यालय पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें दबोच लिया। जांच के दौरान आरोपितों के पास से सीबीआइ के फर्जी पहचान पत्र पाए गए।

साइबर सिक्योरिटी की पढ़ाई कर रहा  आरोपित दीपक 

आरोपित दीपक ने बताया कि वह अहमदनगर महाराष्ट्र का रहने वाला है और दिल्ली के लक्ष्मी नगर में पीजी में रहकर साइबर सिक्योरिटी की पढ़ाई कर रहा है। जबकि सोनू पालम कॉलोनी में रहता है और डीयू से एमए की पढ़ाई कर रहा है। पूछताछ में पुलिस को आरोपितों से पता चला कि दोनों लंबे समय से दोस्त हैं। पुलिस आरोपितों से पूछताछ कर यह पता करने में जुटी है कि कहीं उनका उगाही करने का कोई गिरोह तो नहीं है। पुलिस की छानबीन जारी है।

बता दें कि मार्च 2019 में आयकर विभाग की छापेमारी में विधायक नरेश के पास से 2.56 करोड़ रुपये बरामद किए गए थे। जानकारी के मुताबिक, द्वारका के सेक्टर 12 पॉकेट 6 के फ्लैट से ये रुपये बरामद किए गए थे। शायद आरोपित इन्ही मामलों को लेकर विधायक से ठगी करने की कोशिश की।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस