लखनऊ, जेएनएन। प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे मनोनीत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को शुक्रवार को निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष घोषित किया गया। स्वतंत्र देव सिंह ने गुरुवार को अपना नामांकन दाखिल किया था, उनके खिलाफ किसी ने भी दावेदारी नहीं की थी। भाजपा राष्ट्रीय महासचिव और केंद्रीय पर्यवेक्षक भूपेंद्र यादव ने आज स्वतंत्र देव सिंह को पार्टी का निर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष घोषित किया ।

भाजपा प्रदेश मुख्यालय में शुक्रवार को नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह को केंद्रीय पर्यवेक्षक भूपेंद्र यादव ने प्रमाण पत्र दिया। भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री और उत्तर प्रदेश के चुनाव पर्यवेक्षक भूपेन्द्र यादव पार्टी के नये प्रदेश अध्यक्ष के नाम की घोषणा की। उन्होंने कहा कि एक ही नामांकन पत्र दाखिल हुआ था। इसी कारण स्वतंत्र देव सिंह के नाम की घोषणा करता हूं। इससे पहले राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों के मनोनयन का प्रस्ताव सीएम योगी आदित्यनाथ ने रखा था। डिप्टी सीएम और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, रमापति राम त्रिपाठी ने सीएम के प्रस्ताव का समर्थन किया। राष्ट्रीय परिषद के 80 सदस्यों के नवनिर्वाचित प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह को मनोनयन का अधिकार दिया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के साथ चुनाव अधिकारी कैबिनेट मंत्री आशुतोष टंडन 'गोपाल' तथा देवरिया के सांसद रमापति राम त्रिपाठी भी मौजूद थे। सभी ने एक स्वर से स्वतंत्र देव सिंह के कार्यकाल की सराहना करने के साथ राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों के मनोनयन के लिए उनको ही अधिकृत किया। स्वतंत्र देव सिंह ने इस अवसर पर कहा कि भारत माता के लिए जीवन कुर्बान करने के संस्कार भाजपा में ही मिल सकते हैं।

यह सुख का नहीं त्याग तपस्या का पद : स्वतंत्र देव सिंह

प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद भाजपा प्रदेश परिषद की पहली बैठक को संबोधित करते हुए स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि यह सुख का नहीं त्याग तपस्या का पद है । जहां बूथ अध्यक्ष का पसीना बहेगा, वहां मेरा खून बहेगा । मंडल अध्यक्ष का अपमान कतई बर्दाश्त नहीं होगा । उन्होंने कहा कि भाजपा में पद मिले न मिले लेकिन दायित्व बोध हमेशा बना रहता है, दायित्व बदलते भी रहते हैं । भाजपा कार्यकर्ता तपस्वी हैं । पद मिले न मिले, वे तिरंगे को कभी झुकने नहीं देंगे । वंदे मातरम के लिए जीवन कुर्बान कर सकते हैं । कार्यकर्ता स्वतंत्र देव सिंह से तो नाराज हो सकते हैं लेकिन कमल से नहीं क्योंकि यह राष्ट्र के साथ धोखा होगा । सपा, बसपा व कांग्रेस को अंगूठे से सर तक बेईमान बताने के साथ उन्होंने सोनिया गांधी पर भी हमला किया कि वह आरएसएस को आतंकवादी हिंदूवादी संगठन कहती हैं जबकि संघ एक पवित्र संगठन है जिससे संत महात्मा निकलते हैं ।

भाजपा का प्रदेश संगठन और सक्रिय व धारदार होगा : योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आप सभी ने स्वतंत्र देव सिंह की कार्य पद्धति को देखा है। यह आगे भी वैसे ही काम करते रहेंगे। अपनी टीम को साथ लेकर चलने की इनमें अद्भुत प्रतिमा है। पार्टी को इसका हर जगह पर लाभ मिला है। उत्तर प्रदेश के हर कोने से अच्छी तरह से परिचित स्वतंत्र देव सिंह आगे भी पार्टी की हर गतिविधि को ऐसे ही बढ़ाते रहेंगे। स्वतंत्र देव सिंह के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित होने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उन्हें बधाई दी और कहा उनके नेतृत्व में भाजपा का प्रदेश संगठन और सक्रिय व धारदार होगा। योगी आदित्यनाथ ने दावा किया कि भाजपा के मजबूत संगठन की बदौलत 2022 के विधानसभा चुनाव में पार्टी तीन चौथाई सीटों से बहुमत हासिल करेगी। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारी पीढ़ी बहुत सौभाग्यशाली है जो आज यह सुखद परिणाम देख रही है। यह सुखद परिणाम भाजपा की कई पीढ़ियों की त्याग, तपस्या और संघर्ष का परिणाम है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने कई ऐसे कदम उठाए जिनसे देश की राष्ट्रीय आकांक्षाओं की पूर्ति हुई, वहीं तमाम सामाजिक कुरीतियां भी दूर हुई । उन्होंने अनुच्छेद 370 खत्म किए जाने, तीन तलाक को समाप्त किए जाने, अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण प्रशस्त होने के साथ नागरिकता संशोधन कानून का उल्लेख किया और कहा कि केंद्र व राज्य की सरकार देश को विकास के पथ पर आगे बढ़ाने के साथ राष्ट्रीय आकांक्षाओं की पूर्ति का काम सतत करती रहेंगी।

स्वतंत्र देव सिंह बहुत ही परिश्रमी और अनुभवी : केशव प्रसाद मौर्य

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि स्वतंत्र देव सिंह बहुत ही परिश्रमी और अनुभवी हैं। यहां पर इनकी प्रशंसा सूरज को दीपक दिखाने जैसा है। उन्होंने कहा कि सुनील बंसल और स्वतंत्र देव सिंह की जोड़ी 2022 के लिए काम करेगी और नजारा 100 में 60 हमारा है, बाकी में बंटवारा है। सपा कांग्रेस, सपा बसपा दोनों मिलकर लड़ चुके हैं। ऐसे में विपक्ष मुद्दा उठाता है, जिसका कोई मतलब नहीं रखता। मौर्य ने दावा करते हुए कहा कि सीएए के मुद्दे पर पूरा देश समर्थन में खड़ा है।

स्वतंत्र देव सिंह उत्तर प्रदेश के 19वें प्रदेश अध्यक्ष निर्वाचित

भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय संगठन की देखरेख में स्वतंत्र देव सिंह को भाजपा उत्तर प्रदेश का अध्यक्ष निर्वाचित किया गया। दो दिन की चुनाव प्रक्रिया के बाद वह उत्तर प्रदेश के 19वें प्रदेश अध्यक्ष निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं।भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष पद पर आसीन होने वाले स्वतंत्रदेव 14वें नेता हैं। एक से अधिक बार प्रदेश अध्यक्ष बनने वालों में कलराज मिश्र, कल्याण सिंह व स्व. माधव प्रसाद त्रिपाठी शामिल हैं। इस में कलराज मिश्र चार बार, कल्याण सिंह और माधव प्रसाद को दो बार मौका मिला। अब तक बने प्रदेश अध्यक्षों में माधव प्रसाद, कल्याण सिंह, राजेंद्र गुप्त, कलराज मिश्र, राजनाथ सिंह, ओमप्रकाश सिंंह, विनय कटियार, केसरीनाथ त्रिपाठी, डॉ. रमापति राम त्रिपाठी, सूर्यप्रताप शाही, डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी, केशव प्रसाद मौर्य व डॉ. महेंद्रनाथ पांडेय शामिल हैं। इसमें ओमप्रकाश सिंह को अपना कार्यकाल पूरा करने का मौका नहीं मिला।

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस