पूर्णिया [जेएनएन]। भाजपा नेता और बिहार के उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने कहा कि सड़कें अच्‍छी होने की वजह से सूबे में हादसे हो रहे हैं। सरकार सड़क हादसों को रोकने की योजना पर काम कर रही है। रोड एक्सीडेंट मे कमी लाने के लिए स्पॉट को चिन्हित करने के साथ गाड़ी में स्पीड गवर्नर लगाया जाएगा। उन्‍होंने यह बात संवाददाओं के साथ बातचीत में कही।

अररिया लोकसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में एनडीए प्रत्‍याशी के पक्ष में चुनाव प्रचार करने जाने से पहले सुशील मोदी ने कहा कि बिहार और केंद्र दोनों जगह विकास करने वाली सरकार है। तेजस्‍वी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि जनता भी सब देख रही है। हमारे उपर वे लोग आरोप लगा रहे हैं जो 28 साल की उम्र में 30 संपत्ति के मालिक हैं। अररिया सहित तीनों सीट पर हो रहे उपचुनाव में एनडीए प्रत्‍याशी की जीत होगी। अररिया में पिछले लोकसभा चुनाव से ज्‍याद मतो के अंतर से हमारे गठबंधन के प्रत्‍याशी की जीत होगी।

अपनी करनी का फल भुगत रहे लालू
सुशील मोदी ने कहा कि लालू प्रसाद अपनी करनी का फल भुगत रहे हैं। उनको जेल भाजपा ने नहीं कोर्ट ने भेजा है। दूसरे लोगों द्वारा कहा जाता है कि बीजेपी ने राजद सुप्रीमो को जेल भेजवा दिया। जबकि यह कोर्ट का फैसला है। एक नहीं तीन-तीन कोर्ट ने फैसला दिया है। यदि कोई यह कह रहा है कि बीजेपी ने फैसला दिया है तो यह कोर्ट की अवमानना है। इसमें बीजेपी कहां से आ गई। कहा हमने तो सिर्फ शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत दर्ज कराना गुनाह है क्या।
उन्‍होंने कहा कि राजद-कांग्रेस यह बताए कि लालू जी जब पहली बार जेल गए थे, तो इसमें हम कहां हैं। उस समय मुख्यमंत्री राबड़ी देवी एवं राज्यपाल डा एआर किदवई थे। वहीं तत्कालीन प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा थे। उन्होंने कहा कि बोया पेड़ बबूल का तो आम कहां से होए। कहा जेल जाने से लोगों की आदत में सुधार आता है लेकिन उनमें इसके बाद भी सुधार नहीं हुआ एवं अपने बेटे-बेटियों के नाम से अकूत संपत्ति जमा कर ली। उनके बेटे 28 साल की उम्र में 30 संपत्ति के मालिक हैं।
अररिया उप चुनाव पर बोलते हुए सुमो ने कहा कि इस बार गत चुनाव से अधिक मतों के अंतर से भाजपा उम्मीदवार चुनाव जीतेंगे। वहां जदयू एवं बीजेपी के वोट को जोड़ने पर 70 हजार की बढ़त बनती है। गत चुनाव में जदयू अलग होकर चुनाव लड़ी थी। लेकिन इस बार की परिस्थिति अलग है।
उन्होंने कहा कि अररिया लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी एवं जदयू गठबंधन के अलावा किसी और की गुंजाइश नहीं बनती है। उन्होंने कहा कि तस्लीम साहब की छवि के कारण समाज के अन्य वर्गों का वोट भी उन्हें मिलता था। लेकिन अभी आरजेडी के उम्मीदवार की छवि बताने की जरूरत नहीं है।
अररिया लोकसभा पिछले वोट की बढ़त से ज्यादा मतों से जीतेंगे। यहां लोगों को एक संपत्ति इकट्ठा करने में पूरी उम्र बीत जाती है। आरजेडी यदि उस समय इस संपत्ति का सही-सही ब्यौरा दे देती तो आज वे उपमुख्यमंत्री बने रहते। इस मौके पर कला-संस्कृति मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि, पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह, विधायक विजय खेमका समेत अन्य लोग मौजूद थे।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ravi Ranjan