गोरखपुर, जेएनएन। अयोध्या विवाद पर फैसला आने के बाद की स्थितियों से निपटने के लिए की जा रही तैयारी में पुलिस ने जी-जान लगा दी है। सुरक्षा व्यवस्था का ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया गया है। शहर पर नजर रखने के लिए 28 ड्रोन कैमरे लगाए जाने की तैयारी है। इन कैमरों की मदद से शहर की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए अलग से कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। पहले से चिह्नित संवेदनशील स्थानों पर फैसला आने के बाद से लगातार 72 घंटे पैरा मिलीट्री फोर्स और भारी पुलिसबल की तैनाती रहेगी। उच्‍चाधिकारी स्वयं भी हर गतिविधि पर नजर रखेंगे।

आज डेरा डाल देगी पैरा मिलिट्री फोर्स

जिले में खुफिया एजेंसियों को अभी से सक्रिय कर दिया गया है। शुक्रवार को पैरा मिलीट्री फोर्स भी शहर में डेरा डाल देगी। इस बीच एसएसपी डॉ. सुनील गुप्त ने गुरुवार को भारी पुलिस बल के साथ तिवारीपुर, कोतवाली और राजघाट इलाके में पैदल मार्च किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से बातचीत कर शांति और सौहार्द बनाए रखने की अपील की।

70 से अधिक संवेदनशील मोहल्ले

गोरखपुर में 70 से अधिक संवेदनशील मोहल्ले और स्थान चिह्नित किए गए हैं। फैसला आने के दिन से ही यहां पुलिस बल तैनात कर दिया जाएगा। उनके साथ नागरिक सुरक्षा कोर के लोग भी 12-12 घंटे की शिफ्ट में ड्यूटी करेंगे। बड़े चौराहों और अत्यधिक संवेदनशील मोहल्लों में सुरक्षा बलों का नेतृत्व सीओ करेंगे, जबकि छोटे चौराहों और अन्य स्थानों पर इंस्पेक्टर और थानेदार के नेतृत्व में पुलिस पर तैनात होगा।

25 ड्रोन कैमरे जिला प्रशासन उपलब्ध कराएगा। तीन ड्रोन कैमरे पुलिस के पास पहले से मौजूद हैं। लोगों पर नजर रखने के लिए इन कैमरों की मदद ली जाएगी। लोगों से अफवाहों पर ध्यान न देने और किसी संदिग्ध व्यक्ति या वस्तु के दिखाई देने पर पुलिस को सूचना देने की अपील की जा रही है। - डॉ. सुनील गुप्त, एसएसपी

एसपी ने कहा, सुप्रीम कोर्ट के फैसले का करें सम्मान

एसपी साउथ विपुल कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि अयोध्या राम जन्म भूमि मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला कभी भी आ सकता है। जिसको लेकर सभी लोग शांति व्यवस्था बनाए रखने में सहयोग करे। अफवाह फैलाने और माहौल बिगाडऩे वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वह हरपुर बुदहट  थाना क्षेत्र के सोनबरसा चौकी अंतर्गत ग्राम पंचायत सेमरी में शांति कमेटी की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

लोगों को जागरूक कर रही है पुलिस

भटहट में अयोध्या मुद्दे पर आने वाले फैसले को देखते हुए भटहट चौकी पुलिस ने गांव-गांव पहुंचकर  महिलाओं व पुरुषों की समिति गठित की। चौकी प्रभारी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि सभी वर्गो के लोगों ने अयोध्या पर आने वाले फैसले का स्वागत करने की सहमति जताई है। उपनिरीक्षक रामानुज यादव के नेतृत्व में पुलिस टीम गांवों में पहुंची। बेलीपार में क्षेत्र के बिठौली खुर्द में शांति समिति की बैठक हुई। पुलिस अधीक्षक दक्षिणी विपुल कुमार श्रीवास्तव ने लोगों को संबोधित किया। थाना प्रभारी संतोष कुमार सिंह, एसआई शेर बहादुर यादव आदि लोग उपस्थित रहे। पिपरौली में नगर पंचायत सभागार में नायब तहसीलदार आशुतोष सिंह की अध्यक्षता में बैठक हुई। ईओ पूजा सिंह परिहार व एसआई अजय श्रीवास्तव ने लोगों को संबोधित किया। कैंपियरगंज बाजार, पचमा व घघवा चौराहे पर पुलिस ने चौपाल लगाकर लोगों जागरूक किया। थानाध्यक्ष निर्भय नरायन सिह ने व एसएसआइ एसडी मिश्र ने लोगों को संबोधित किया।

डीएम ने तैनात किए 108 सेक्टर मजिस्ट्रेट

जिलाधिकारी के.विजयेन्द्र पाण्डियन ने गुरुवार को 108 सेक्टर मस्ट्रिेटों की तैनाती की है। जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में इन्हें जिम्मेदारी सौंप दी गई है। अयोध्या प्रकरण पर सुप्रीम कोर्ट पर आने वाले फैसले को ध्यान रखते हुए जिला प्रशासन पूरी तरह अलर्ट मोड में है। वह किसी भी तरह की रिस्क नहीं लेना चाहता है। इसीलिए जिले में कुल 108 सेक्टर मजिस्ट्रेट जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में लगाए गए हैं। इसके अलावा सुपर विजन के लिए सब जोनल पुलिस अधिकारी, सब जोनल मजिस्ट्रेट, जोनल पुलिस अधिकारी, जोनल मजिस्ट्रेट को जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

मॉक ड्रिल कर पुलिस ने कराया सुरक्षा का आभास

फैसले को ध्यान में रखकर थाने द्वारा मॉक ड्रिल का प्रदर्शन किया गया। इससे लोगों को आभास कराया गया कि वह पूरी तरह से निश्चिंत रहें। पुलिस पूरी तरह से तैयार है। थानाध्यक्ष दिनेश कुमार व सह थानाध्यक्ष बदरूद्दीन खां की अध्यक्षता में आयोजित मॉक ड्रिल में दिखाया गया कि पुलिस द्वारा तैयार किए छद्म उपद्रवी अपनी गलत मांग पर अड़े थे। उन्होंने पुलिस-प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाया। पुलिस पर ईंट व पत्थर चलाया। कार्रवाई करते हुए पुलिस ने उपद्रवियों के मंसूबों पर पानी फेर दिया। एसओ ने लोगों से अपील किया है कि मंदिर, मस्जिद मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे किसी प्रकार का भ्रम न फैलाए। न ही किसी प्रकार की अफवाह फैलाएं। असामाजिक तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उप निरीक्षक अजीत कुमार यादव, राकेश कुमार सिंह, बलभद्र वर्मा, अरुण कुमार सिंह, विजय कुमार सिंह, कांस्टेबल पारस यादव, भीमसेन, मनोज कुमार यादव, सतीश कुमार ओझा, यदुवंशी यादव आदि मौजूद रहे।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस