जेएनएन, अमृतसर। शिरोमणि अकाली दल के प्रधान एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पंजाब विधानसभा चुनावों में शिअद-भाजपा मिलकर चुनाव लड़ेंगे। बता दें, दिल्ली विधानसभा चुनाव में गठबंधन टूटनेे के बाद राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा थी कि पंजाब में भी गठबंधन में दरार पड़ सकती है, लेकिन सुखबीर बादल ने स्पष्ट किया है कि पंजाब में गठबंधन जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि अकाली-भाजपा गठजोड़ पंजाब के हितों वाला गठजोड़ है। 

सुखबीर बादल अपनी पत्नी व केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के साथ श्री हरमंदिर साहिब में माथा टेकने पहुंचे थे। इस दौरान वह परिवार की ओर से रखे गए श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के पाठ की अरदास में शामिल हुए और सुख शांति के लिए प्रार्थना की। पत्रकारों से बातचीत में सुखबीर ने कहा कि वह नागरिक संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ नहीं है, लेकिन उन्होंने कहा कि भारत सभी धर्मों का देश है सभी को समान मौके मिलने चाहिए।

उन्होंने कहा कि अकाली दल की मांग रही है कि मुसलमानों को भी नागरिक संशोधन कानून के अंतर्गत लाया जाना चाहिए। एक सवाल के जवाब में सुखबीर ने कहा कि पंजाब में विकास कार्य कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में पूरी तरह रोक चुके हैं। पंजाब में जो विकास कार्य पहले चलते थे उनको भी बंद कर दिया गया है। मौजूदा सरकार पंजाब के लोगों के हितों और विकास वाली सरकार नहीं है। इस सरकार में कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो गई है।

कैप्टन राज में  ड्रग  तस्करों और गैंगस्टरों का गणजोड़ सक्रिय

सुखबीर बादल ने कहा कि राज्य में कांग्रेस के राज में ड्रग तस्करों और गैंगस्टर मिलकर काम कर रहे हैं। डीजीपी का पंजाब पर कोई नियंत्रण नहीं है। कैप्टन पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि खाली खजानेे का रोना रोकर कांग्रेस सरकार अपनी नाकामियां छिपा रही है। कैप्टन सरकार पूरी तरह फेल रही है। टकसाली अकालियों पर भी निशाना साधते हुए सुखबीर बादल ने कहा कि परमजीत सरना कांग्रेस के एजेंट हैं। 

शगुन में पहुंचे सुखबीर 

उधर, सुखबीर बादल तरनतारन में शिरोमणि गुरद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) के पूर्व महासचिव गुरबचन सिंह करमूवाला के लड़के के शगुन के मौके गांव शेरों के सिद्धू फार्म में पहुंचे | इस मौके पूर्व मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया, शिअद प्रवक्ता और पूर्व सीपीएस विरसा सिंह वल्टोहा, हरमीत सिंह संधू, मंजीत सिंह मियाविंड भी उनकेे साथ मौजूद रहे। 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!

जागरण अब टेलीग्राम पर उपलब्ध

Jagran.com को अब टेलीग्राम पर फॉलो करें और देश-दुनिया की घटनाएं real time में जानें।