जालंधर, जेएनएन। पाकिस्तान में ननकाना साहिब के गुरुद्वारा तंबू साहिब से अगवा किए जाने के बाद धर्मांतरण और जबरन निकाह की शिकार बनी सिख युवती अपने घर लौट आई है। भारत के दबाव के कारण पाकिस्‍तान सरकार को कदम उठाना पड़ा और सिख युवती को उसके घर पहुंचाया गया। ग्रंथी भगवान सिंह की अगवा हुई बेटी जगजीत कौर मंगलवार को पाकिस्तानी प्रशासन की मदद से घर लौटी। पंजाब के मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने सिख युवती को उसके घर वापस छोड़ने पर संतोष जताई है और पाकिस्‍तान की सरकार से इस तरह की घटनाएं रोकने के लिए कारगर कदम उठाने को कहा है।

जगजीत कौर का अपहरण करने के बाद धर्म परिवर्तन करवा दिया गया था और उसके बाद जबरन एक मुस्लिम लड़के से निकाह करवा दिया था। जगजीत कौर की सुपुर्दगी परिवार को पाक सरकार के उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल और सिख भाईचारे की 30 सदस्यीय कमेटी के बीच हुए समझौते के बाद दी गई। पाकिस्तानी पंजाब के गवर्नर चौधरी सरवर ने ट्वीट कर कहा कि लड़के और लड़की के परिवारों को गवर्नर हाउस में बुलाया गया था जहां पर सारा मामला शांति से निपटा दिया गया है।

लड़की अपने परिवार के पास सुरक्षित है। इसके साथ ही उन्होंने यह भी ट्वीट किया वह पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के अधिकारों रक्षा को यकीनी बनाएंगे। सरवर ने कहा कि लड़के के माता-पिता ने गवर्नर हाउस में सबको विश्वास दिलाया है कि वह लड़की को लेने के लिए किसी भी अदालत में नहीं जाएंगे। यदि लड़की अपने परिवार के पास जाना चाहती है तो उन्हें कोई एतराज नहीं है। उल्लेखनीय है कि जगजीत का धर्म परिवर्तन के बाद मुस्लिम लड़के से जबरन निकाह करवा देने की घटना से विभिन्न देशों में रह रहे सिखों में भारी आक्रोश है।

सिख युवती से घर लौटने की खबर से काफी राहत मिली: कैप्टन

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्हें पाकिस्तान की इस घोषणा से काफी राहत मिली कि उन्होंने सिख लड़की को उसके परिवार को लौटाई जा रही है, जिसे अगवा कर लिया गया था। जबरन धर्म परिवर्तन के बाद उसका निकाह मुस्लिम व्यक्ति से करवा दिया गया था। उन्होंने कहा कि यह राहत की बात है कि जगजीत कौर ननकाना साहिब में अपने परिवार के पास वापस लौट रही है। मैं सभी को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने जगजीत कौर को अपनी आवाज दी और सुनिश्चित किया कि हमारी बेटी के साथ जो गलत हुआ है, उसे सुधारा जाए।

यह भी पढ़ें: तो फिर एक हाेगा चौटाला परिवार, सर्वखाप ने उठाया बीड़ा, अभय बोले- अजय जो कहेंगे मानूंगा

 

उन्‍होंने कहा कि सभ्य दुनिया में इस तरह के जबरन धर्मांतरण की कोई जगह नहीं है। यह रुकना चाहिए। अमरिंदर सिंह ने सोमवार को ट्विटर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को लड़की की मदद न करने के लिए फटकार लगाई थी।इससे पहले मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्रीय गृह मंत्री से मुलाकात में राष्ट्रीय और प्रांतीय सुरक्षा के मामलों संबंधी विचार-विमर्श किया और कहा कि पाकिस्तान में सिख लडक़ी के जबरन धर्म परिवर्तन का मामला केंद्र सरकार वहां की सरकार के पास जोरदार ढंग से उठाए।

यह भी पढ़ें: युवक ने घूमने के लिए दोस्त की कार ली, फिर कुरुक्षेत्र के एसएचओ को बेच दी

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पहले ही सार्वजनिक तौर पर बयान जारी करके पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान को इस मामले में निजी दखल देकर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर चुके हैं। पाकिस्तान में ऐसी घटनाओं संबंधी मीडिया कर्मियों द्वारा पूछे जाने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ननकाना साहिब शहर में ग्रंथी की बेटी को अगवा करके जबरन इस्लाम धर्म में परिवर्तित करने की इस घटना के अलावा और कोई ऐसा मामला उनके ध्यान में नहीं आया।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!