मुंबई, एएनआइ। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) प्रमुख शरद पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को पत्र लिखकर महाराष्ट्र के लिए केंद्र से वित्तीय पैकेज की मांग की है, ताकि कोरोना संक्रमण की महामारी से निपटने में मदद मिले।

वर्ष 2020-21 के लिए एक लाख करोड़ के अतिरिक्त फंड का किया आग्रह

महाराष्ट्र में पैदा हुए संकट से पीएम मोदी व सीतारमण को अवगत कराते हुए पवार ने पत्र में सलाह दी है कि केंद्र को नेशनल स्मॉल सेविंग फंड लोन (एनएसएसएफ) का प्रावधान करना चाहिए। इसके साथ ही महाराष्ट्र को वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए एक लाख करोड़ का अतिरिक्त फंड दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण ने मुंबई और भारत की आर्थिक स्थिति को बुरी तरह प्रभावित किया है। इससे निपटने के लिए जल्द प्रयास किए जाने चाहिए।

पालघर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय

शरद पवार ने पिछले दिनों पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना की निंदा करते हुए कहा था कि पालघर में उस दिन जो कुछ भी हुआ, वह नहीं होना चाहिये था। पवार ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय बताया। उन्‍होंने कहा कि पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए एक ही रात में इस घटना के दोषी 100 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर मामला दर्ज कर लिया है। 

शरद पवार का कहना था कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे जो कुछ भी कर सकते हैं, वह कर रहे हैं। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो राज्‍य की कानून व्‍यवस्‍था पर सवाल दाग रहे हैं, जबकि एक अफवाह के कारण ये घटना हुई, ऐसी घटना का होना किसी भी तरह से ठीक नहीं है।

लता मंगेशकर ने उद्धव ठाकरे के प्रयासों को सराहा

दिग्गज गायिका लता मंगेशकर ने कोरोना संकट से निपटने के लिए महाराष्ट्र सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों को लेकर उद्धव ठाकरे की सराहना की। उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, 'नमस्कार, महाराष्ट्र की मौजूदा स्थितियों से निपटने के लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तरफ से उठाए जा रहे कदम सराहनीय हैं। सभी धर्म के लोगों को एकसाथ मुख्यमंत्री का समर्थन करना चाहिए। मैं आपसे फिर घर में रहने की अपील करती हूं।'

 

Posted By: Arun Kumar Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस