पटना [स्‍टेट ब्‍यूरो]। राष्‍ट्रीय जनता दल (आरजेडी) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी ने लालू प्रसाद यादव के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष के रूप में निर्वाचन पर मुहर लगा दी। अब मंगलवार को आरजेडी की नवगठित राष्ट्रीय परिषद की बैठक में इसकी औपचारिक घोषणा कर दी जाएगी। इसके साथ ही पार्टी का खुला अधिवेशन भी होगा। सोमवार को कार्यकारिणी की बैठक में आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के नारों और संघर्ष की रणनीति तय कर ली गई।  बैठक में राबड़ी देवी, मीसा भारती व लालू के समधी चंद्रिका राय की अनुपस्थिति खटकी।

बैठक से दूर रहे चंद्रिका राय, नहीं दिखीं राबड़ी देवी

सोमवार को आरजेडी राष्‍ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बैठक में कई प्रदेशों के नेता आए, किंतु राबड़ी देवी और मीसा भारती की अनुपस्थिति खटक रही थी। लालू प्रसाद यादव के समधी चंद्रिका राय और सांसद मनोज झा भी नहीं थे। चंद्रिका राय पूर्व मुख्‍यमंत्री दारोगा प्रसाद राय के बेटे हैं। चंद्रिका राय की बेटी ऐश्‍वर्या राय से लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी हुई है, लेकिन दोनों के बीच तलाक का मुकदमा चल रहा है।

सक्रिय रहे तेजस्‍वी यादव, देर से पहुंचे तेज प्रताप

बैठक में लालू के छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव सक्रिय दिखे। लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव काफी देर बाद पहुंचे। कुछ दिनों पहले अवकाश लेने की घोषणा करने वाले शिवानंद तिवारी की सक्रियता सबकी निगाहों में रही।

आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर विचार

सोमवार को हुई बैठक में आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के नारे और संघर्ष की रणनीति पर विचार किया गया। अपराध, महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों पर केंद्र-राज्य सरकारों के खिलाफ चक्रव्यूह रचना की तैयारी हो चुकी है। नई रणनीति के तहत आरजेडी को अब सवर्णों से भी परहेज नहीं है।

मंगलवार को पटना के बापू भवन में आयोजित खुला अधिवेशन के दौरान मैदान की ओर प्रस्थान के लिए बिगुल भी बजा।

लालू के फिर अध्‍यक्ष बनाए जाने की घोषणा आज

बैठक में लालू प्रसाद यादव को फिर से राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने जाने पर कार्यकारिणी ने मुहर लगा दी। मंगलवार को आरजेडी की नवगठित राष्ट्रीय परिषद की बैठक में इसकी औपचारिक घोषणा कर दी जाएगी। साथ ही, पार्टी का खुला अधिवेशन भी होगा।

प्रस्तावों में पहली बार महिला सशक्‍तीकरण शामिल

सोमवार की बैठक में पेश 10 प्रस्तावों में महिला सशक्‍तीकरण को पहली बार शामिल किया गया। प्रस्ताव प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने तैयार किया था। कार्यक्रम की अध्यक्षता रघुवंश प्रसाद सिंह ने की।

केंद्र व राज्‍य सरकारों पर जमकर बरसे तेजस्‍वी

बैठक में दिल्ली में बिहारी मजदूरों की अगलगी में मौत के बहाने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार में डोमिसाइल का मुद्दा उठाया और कहा कि बिहार के लोगों को अगर यहीं रोजगार मिलेगा तो बाहर क्यों जाएंगे? कहा कि महागठबंधन सरकार के दौरान उन्‍होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से बात की थी। लालू प्रसाद ने भी जोर दिया था। किंतु कोई जवाब नहीं आया।

तेजस्‍वी यादव ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार एवं राज्य की नीतीश सरकार को नाकाम बताया। कहा कि सामाजिक सौहार्द और सबके विकास के लिए आरजेडी सड़क से संसद तक संघर्ष करेगा। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की हरियाली यात्रा पर तंज कसते हुए कहा कि उन्‍हें इसके बदले बेरोजगारी दूर करने वाली यात्रा निकालनी चाहिए। तेजस्‍वी ने प्याज की कीमतों की तुलना विराट कोहली के दोहरे शतक से करते हुए कहा कि लोगों को इंतजार है कि कौन पहले दोहरा शतक लगाता है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस