जागरण संवाददाता, जयपुर : राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार ने कांग्रेस विधायकों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं को खुश करने के लिए तबादलों से रोक हटा दी है । कांग्रेस विधायक और कार्यकर्ता पिछले एक साल से तबादलों पर रोक हटाने को लेकर मुख्यमंत्री पर दबाव बना रहे थे ।

आखिरकार मुख्यमंत्री ने अगले सप्ताह से शुरू होने वाली पंचायत चुनाव की प्रक्रिया को देखते हुए तबादलों से रोक हटाई है। गत वर्ष 30 सितंबर को यह रोक लगाई थी। 

आदेश-सभी आवेदन अब ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे

राज्य के प्रशासनिक सुधार विभाग ने रोक हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं। राज्य में कोविड-19 की स्थिति के मद्देनजर तबादलों के सभी आवेदन अब ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे। यह आदेश सभी निगम मंडलों और स्वायत्तशासी संस्थाओं पर भी लागू होंगे। 

30 अक्टूबर तक तबादलों में आचार संहिता का पालन होगा

प्रशासनिक सुधार एवं समन्वय विभाग (ग्रुप 1) की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि 15 सितंबर से 30 अक्टूबर तक की अवधि में किए जाने वाले तबादलों में राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की गई आचार संहिता की पालना की जाएगी ।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस