पटना, जेएनएन। बिहार के ये चूहे (Rats) कमाल के हैं। ये पहले थाने (Police Stations) में रखी शराब (Liquor) की चोरी कर पी गए। फिर नशे में टल्‍ली होकर तटबंध (Embankment) कुतर डाले। इन चूहों की करतूत यहीं नहीं रुकी, उन्‍होंने शिक्षक नियोजन (Teacher's Recruitment) की फाइलें कुतर डालीं। आगे अस्‍पतालों (Hospitals) पर हमला कर सेलाइन (Saline) व दवाएं (Medicines) हजम कर गए।

इन 'कारामातों' की वजह से अब उन्‍हें बिहार की सियासत में जगह मिली है। हम बात कर रहे हैं राज्‍य में छिड़े सियासी पोस्‍टर वार (Political Poster War) की। जनता दल यूनाइटेड (JDU) व राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के बीच तीन महीने से जारी इस जंग कांग्रेस (Congress) अब इन चूहों के साथ घुसी है।

कांग्रेस के पोस्‍टर में निशाने पर नीतीश सरकार

पटना के विभिन्‍न चौराहों पर मंगलवार की सुबह कांग्रेस के पोस्‍टरों का लोग मजे लेते दिखे। इन पोस्‍टरों में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार को निशाने पर लिया गया है। बड़े अक्षरों में 'खौफनाक नीतीश सरकार' लिख कर नीचे दायीं तरफ चूहे की तस्‍वीर दी गई है। इस चूहे के साथ बीते कुछ समय के दौरान चूहों के नाम से चर्चित कुछ घटनाओं की चर्चा घोटाला (Scam) बताते हुए की गई है। बताया गया है कि यह चूहा और कोई नहीं, बल्कि नीतीश सरकार ही है।

कहा- चूहों के नाम पर दफन नहीं होने देंगे हर राज

पोस्‍टरों में लिखा गया है कि चूहे 1100 करोड़ का बांध खा गए, नौ लााख लीटर शराब पी गए। 40 हजार नियोजित शिक्षकों की फाइलें खा गए और अब करोड़ों की दवा पी गए। पोस्‍टरों में कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की तस्‍वीर देते हुए लिखा गया है कि चूहों के नाम पर हर राज दफन नहीं होने देंगे। ये पोस्‍टर बिहार कांग्रेस के पूर्व सचिव सिद्धार्थ क्षत्रिय के नाम से जारी किए गए हैं।

बिहार में तीन महीने से जारी सियासी पोस्‍टर वार

विदित हो कि बीत तीन महीने से बिहार में जेडीयू व आरजेडी के बीच सियासी पोस्‍टर वार जारी है। दोनों दल प्रतिद्वंद्वी को निशाने पर लेने में कोई चूके करते नहीं दिख रहे। इस जंग में बीच-बीच में कांग्रेस सहित अन्‍य दल तड़का लगाते दिख रहे हैं। कांग्रेस का पोस्‍टर इसी की ताजा कड़ी है। 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस