पटना [जेएनएन]। करीब एक महीने की सियासी उठापटक के बाद महाराष्ट्र (Maharashtra) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) व राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) सरकार बनने की खुशी और गम के उद्गार से बिहार भी अछूता नहीं रहा। बीजेपी खेमे में जश्न का माहौल है, उसे जनता दल यूनाइटेड (JDU) व लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) का साथ मिला है। वहीं, महागठबंधन (Grand Alliance) सकते में है।

हिंदुस्‍तानी आवाम मोर्चा (HAM) प्रमुख जीतनराम मांझी (Jitan Ram Manjhi) और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने इस मामले पर कड़ी टिप्पणी की। मांझी ने कहा कि बीजेपी महाराष्‍ट्र में जिसे आतंकियों (Terrorists) के मददगार बताती थी, उसी के साथ सरकार बना ली है। कुशवाहा ने इसे लोकतंत्र (Democracy) पर सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical Strike) करार दिया है।

फ्लोर टेस्‍ट में बीजेपी की जीत तय: संजय जायसवाल

बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Jaiswal) ने कहा कि महाराष्ट्र का मामला कोर्ट (Court) में है, इसलिए इसपर कोई टिप्पणी नहीं कर सकते। फिर भी इतना तो कहेंगे ही कि अगर 'फ्लोर टेस्ट' (Floor Test)  होता है तो उसमें बीजेपी की जीत (Victory) तय है।

मौकापरस्ती को लगा करारा झटका: सुशील मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री (Dy. CM) सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) ने कहा कि महाराष्ट्र में 'फ्लोर टेस्ट' में बीजेपी को कामयाबी मिलेगी। बीजेपी हर जगह सरकार बनाने में सफल है। इसके पहले उन्‍होंने कहा था कि महाराष्ट्र में चुनाव (Maharashtra Assembly Election) परिणाम आने के बाद अचानक जिनका पुत्र मोह बढ़ गया था और जो बेलगाम महत्वाकांक्षा के चलते बाल ठाकरे ( Bal Thackeray) के सिद्धांतों को छोड़कर कांग्रेस की चौखट पर नाक रगडऩे लगे थे, उनकी मौकापरस्ती को करारा झटका लगा है।

मोदी ने ट्वीट करके कहा कि सवेरे-सवेरे मुंबई में फडऩवीस सरकार (Fadnavis Government) का गठन राज्य में राजनीतिक स्थिरता और विकास का नया सवेरा लाएगा। कहा, महाराष्ट्र की जनता ने बीजेपी-शिवसेना गठबंधन (BJP-Shivsena Alliance) के नेता देवेंद्र फडऩवीस (Devendra Fadnavis) को सरकार बनाने का स्पष्ट जनादेश दिया था, लेकिन समान विचारधारा के आधार पर बनी 30 साल पुरानी मित्रता को तोड़कर शिवसेना सत्ता के लिए कुछ भी करने पर उतर गई थी।

मोदी ने कहा देश की आर्थिक राजधानी में जिन लोगों ने अनिश्चय की रात महीने भर लंबी कर दी थी, उन्हें सबक सिखाया जा चुका है। इससे महाराष्ट्र ही नहीं, झारखंड व बिहार सहित पूरे देश में भाजपा कार्यकर्ताओं का मनोबल ऊंचा हुआ है।

जो जीता वही सिकन्दर: केसी त्‍यागी

जेडीयू के प्रधान महासचिव केसी त्यागी ने कहा कि सौ साल के धर्मनिरपेक्षता का दावा करने वाली कांग्रेस तथा 50 साल राष्ट्रवाद का राग अलापने वाली शिव सेना दोनो सत्ता में आने की कोशिश में थे, बीजेपी ने उनके पासे उलट दिए। 'जो जीता वही सिकन्दर।' उन्‍होंने सवाल किया कि बाबरी मस्जिद गिराने वाले शिव सेना के लाेगों के साथ कांग्रेस क्यों है? इसे सिद्धांतहीन और मौकापरस्त राजनीति बताते हुए केसी त्‍यागी ने कहा कि महाराष्‍ट्र में सरकार का गठन इसका पटाक्षेप है। उन्‍होंने राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) का कुनबा बढ़ने पर खुशी जाहिर करते हुए देवेंद्र फडणवीस को बधाई दी।

रामविलास पासवान ने कसा तंज

,इस मामले पर एलजेपी सुप्रीमो व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने किसी पार्टी और नेता का नाम लिए बिना ट्वीट कर तंज कसा। उन्‍होंने लिखा कि सड़क पर वही जानवर मरता है जो फैसले नहीं ले पाता कि दाएं जाएं या बाएं।

लोकतंत्र के इतिहास में काला दिन: मांझी

जीतनराम मांझी ने ट्वीट कर लोकतंत्र के इतिहास में इसे काला दिन (Black day in Indian democracy) करार दिया। आशंका जताई कि बिहार में भी बीजेपी ऐसा ही कर सकती है। ट्वीट में गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को टैग करते हुए मांझी ने लिखा है कि जिस एनसीपी को आप कल तक आतंकियों की मददगार बताते थे आज उसी के साथ सरकार बना ली।

भाजपा ने की लोकतंत्र पर सर्जिकल स्ट्राइक: कुशवाहा

आरएलएसपी प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने महाराष्ट्र प्रकरण को बीजेपी की लोकतंत्र पर सर्जिकल स्ट्राइक (Surgical strike on democracy) करार दिया है। बीजेपी को घेरने के लिए उन्होंने भी ट्वीट का सहारा लिया और  लिखा है कि भ्रष्टाचार (Corruption) के डर से जेल जाने से बचना है तो बीजेपी के आगे घुटने टेकने होंगे। महाराष्ट्र में रातोंरात बैठक हुई। सहमति बनी। मिलने के लिए राज्यपाल (Governor) से समय मांगा। मिला। सरकार बनाने का दावा पेश किया। राष्ट्रपति शासन (President Rule) हटाने की प्रक्रिया हुई। राजभवन ने आमंत्रित किया और अहले सुबह शपथ ग्रहण हो गया। वाह! क्या सर्जिकल स्ट्राइक हुई है लोकतंत्र पर।

लोकतंत्र की हत्या कर बनी अनैतिक सरकार: आरजेडी

आरजेडी के प्रदेश महासचिव विनोद यादव एवं युवा अारजेडी के प्रवक्ता अरुण कुमार यादव ने कहा कि महाराष्ट्र में सियासी समीकरण पलटने में बीजेपी ने जांच एजेंसियों की मदद ली। लोकतंत्र की हत्या कर अनैतिक सरकार बनाने पर जश्न मनाना निंदनीय है। सत्ता के लिए बीजेपी ने लोकतंत्र और संविधान को लहूलुहान किया है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस