हमीरपुर, जागरण संवाददाता। मजदूरों को सैनिक की तरह तमाम सुविधाएं मिलें इसका प्रावधान अगर किसी ने किया है तो इसका सारा श्रेय देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जाता है। यह बात पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने मंगलवार को हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण योजना के तहत आयोजित एक कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए कहे। इस मौके पर मनरेगा में कार्य करने वाले करीब 300 दिहाड़ी चारों को घरेलू उपयोगी सामग्री जिसमें साइकल, इंडक्शन चूल्हा ,सोलर लैंप ,इत्यादि थे। उन्हें वितरित किया, वितरण समारोह में पहुंचे मुख्य अतिथि का स्थानीय लोगों भाजपा पार्टी के कार्यकर्ताओं एवं कामगार योजना के अंतर्गत लाभान्वित परिवारों ने गर्मजोशी के साथ स्वागत किया ।अपने संबोधन में पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कामगार योजना के अंतर्गत मनरेगा मजदूरों को अलग पहचान दिलाई जा रही है, अगर एक सैनिक को ड्यूटी के दौरान तमाम सुविधाएं मिलती हैं उसी तर्ज पर मनरेगा के मजदूरों को भी कुछ सुविधाएं मिल सकें इसका प्रयास मोदी सरकार कर रही है। जिसकी शुरुआत लाभार्थी परिवारों को समय-समय पर मिलने वाली सामग्री है उन्होंने कहा कि सैनिकों को भी पेंशन मिलती है मनरेगा मजदूरों दिहाड़ी दारों को भी आयु सीमा पूरी करने के बाद हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन का प्रावधान है।

दिहाड़ी लगाने में न करें शर्म

पूर्व सीएम ने कहा कि काम करने में कई झिझक नहीं होनी चाहिए। दिहाड़ी लगाते समय शर्म महसूस कोई न करें इसके लिए तमाम सुविधाएं मोदी सरकार दे रही है। उन्होंने बताया कि कामगार योजना के अंतर्गत मातृत्व पितृत्व सुविधा अंतिम संस्कार हेतु सहायता, शादी हेतु वित्तीय सहायता, शिक्षा हेतु वित्तीय सहायता, महिला साईकिल, इंडक्शन हिटर ,सोलर लैंप, पेंशन सुविधा। तमाम तरह से दिहाड़ी लगाने बालो को केंद्र की मोदी सरकार प्रदेश सरकार के तत्वधान में सुविधाएं उपलब्ध करवा रही है। इस मौके पर लाभार्थी परिवारों को सामग्री इंडक्शन चूल्हे साइकल सोलर लैंप इत्यादि वितरित किए गए । इस मौके पर भाजपा मंडल अध्यक्ष वीरेंद्र ठाकुर, महामंत्री अनिल शामा, पवन शर्मा ,मीडिया प्रभारी विनोद ठाकुर ,जिला परिषद अध्यक्ष बबली देवी ,बारी पंचायत रङ्क्षवद्र कुमार प्रधान के साथ-साथ भाजपा पदाधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Vijay Bhushan