चंडीगढ़/अबोहर, जेएनएन। पंजाब में एक बार फिर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी पर राजनीति गर्मा गई है। इस बार राजीव गांधी के जन्मदिन को लेकर सियासत शुरू है। 20 अगस्‍त काे राज्‍य में सरबत बीमा योजना की हो रही शुरूआत को राजीेव गांधी के जन्‍मदिन से जोड़ा जा रहा है। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर बादल का कहना है कि कैप्‍टन अमरिंदर सिंह सरकार राजीव गांधी का जन्मदिन सरकारी तौर पर मनाने जा रही है। इससे शर्मनाक बात कुछ और नहीं हो सकती। 1984 में राजीव गांधी के कहने पर ही हजारों सिखों का कत्लेआम किया गया था।

सरबत बीमा योजना की शुरूआत को राजीेव गांधी के जन्‍मदिन से जोड़ा

सुखबीर ने इससे संबंधित एक वीडियो भी अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। वहीं, सरकारी स्तर पर राजीव गांधी का जन्मदिन मनाने को लेकर कोई अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। पंजाब सरकार 20 अगस्त को सरबत बीमा योजना की शुरुआत करने जा रही है। इस योजना की लांचिंग को राजीव गांधी के जन्मदिन से जोड़ कर देखा जा रहा है। 20 अगस्त को ही राजीव गांधी का जन्मदिन दिन होता है। इस योजना का शुभारंभ मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह करेंगे। ऐसे में योजना की तारीख को लेकर पंजाब में राजनीतिक पारा चढ़ गया है।

सुखबीर बोले- सरकारी खर्च पर राजीव गांधी का जन्मदिन मनाना शर्मनाक

वहीं, दूसरी तरफ भाजपा के प्रदेश प्रधान श्वेत मलिक का कहना है कि आखिर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को इस बात का जवाब देना चाहिए कि उन्होंने केंद्र सरकार की इस योजना से पंजाब के लोगों को एक वर्ष तक क्यों महरूम रखा। उन्होंने कहा कि इस दौरान स्वास्थ्य बीमा का लाभ न उठा पाने के लिए आखिर कौन जिम्मेदार है, जबकि देश के अन्य हिस्सों में लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस को बडा़ झटका, हुड्डा ने पकड़ी अलग राह, बोले- अतीत से हुआ मुक्‍त, पहले वाली कांग्रेस नहीं रही

शिरोमणि अकाली दल ने सरकार पर निशाना साधना शुरू कर दिया है। सुखबीर बादल का कहना है कि सरकारी खर्चे पर राजीव गांधी का जन्मदिन मनाना शर्मनाक है। राजीव गांधी की मां व तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के कहने पर ही स्वर्ण मंदिर में हमला किया गया। राजीव गांधी के कहने पर हजारों सिखों का कत्लेआम किया गया। फाजिल्का के अबोहर में विधायक अरुण नारंग के निवास पर पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि पूर्व पीएम राजीव गांधी का जन्मदिवस मनाया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। कैप्टन को इसके लिए शर्म आनी चाहिए।

सरबत सेहत बीमा योजना का लाभ 4500 पत्रकारों को भी मिलेगा

सरबत सेहत बीमा योजना में पत्रकारों को भी कवर करने का फैसला किया है। इस स्कीम के अधीन लगभग 4500 पत्रकारों को फायदा मिलेगा। गरीबी रेखा से नीचे वाले परिवारों को सेहत बीमा देने के लिए शुरू की गई प्रधानमंत्री सेहत बीमा योजना का दायरा बढ़ाकर राज्य सरकार ने सरबत सेहत बीमा योजना स्कीम के अंतर्गत 42.5 लाख परिवारों को कवर किया है, यह 1 जुलाई 2019 से अमल में लाई गई है।

यह भी पढ़ें: ASI बेटी को फोन करके बोला- DSP ने मुझे कुत्ता कहा मरने जा रहा हूं, फिर बेटी ने ऐसे बचाया

राज्य सरकार की ओर से मान्यता प्राप्त व पीला कार्ड धारक पत्रकार इस स्कीम का फायदा लेने के लिए योग्य होंगे। इस स्कीम के अंतर्गत प्रीमियम का सारा खर्च राज्य सरकार वहन करेगी। इस स्कीम के अंतर्गत पंजाब में करीब 400 प्राइवेट अस्पताल सूचीबद्ध किए गए हैं। इस स्कीम के अधीन लाभपात्रियों का इलाज जिला अस्पतालों और बड़े मल्टी स्पेशलिटी अस्पतालों में किया जाएगा। जहां ऑपरेशन, सर्जरी आदि की सुविधा मौजूद होती है। सभी सरकारी अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भी इलाज के लिए सूचीबद्ध हैं। राज्य सरकार की ओर से प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपए का सेहत बीमा कवर करने के लिए कुछ महीने पहले एक फैसला लेकर प्रधान मंत्री सेहत बीमा योजना का दायरा बढ़ाया गया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!