नोएडा [धर्मेंद्र चंदेल] उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के फैसले की घड़ी अब नजदीक आ गई है। असली नतीजे तो दस मार्च को मतगणना के बाद ही सामने आएंगे, लेकिन एग्जिट पोल में गौतमबुद्ध नगर की तीनों सीटों पर भाजपा का पलड़ा भारी बताया जा रहा है। हालांकि, दादरी और जेवर में सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशियों ने भाजपा को कड़ी चुनौती देते हुए मुकाबला दिलचस्प बनाया है।

इन दोनों सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी अपनी उपस्थिति दर्ज कराते नजर नहीं आए। बसपा प्रत्याशियों ने मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने की भरपूर कोशिश तो की है, लेकिन एक्जिट पोल के हिसाब से उनकी मेहनत सफल होती नजर नहीं आ रही है। कमोबेश यहीं स्थिति नोएडा सीट की है। यहां से सपा प्रत्याशी सुनील चौधरी ने भी भाजपा को टक्कर देने की कोशिश की है, लेकिन जीत का सेहरा भाजपा के मौजूदा विधायक पंकज सिंह के सिर पर बंधता नजर आ रहा है। एग्जिट पोल सही साबित हुआ तो बसपा प्रत्याशी कृपाराम शर्मा, कांग्रेस की पंखुड़ी पाठक व आम आदमी के पंकज अवाना में तीसरे, चौथे व पांचवें नंबर की लड़ाई में हैं।

गौतमबुद्ध नगर में सपा की साइकिल कभी नहीं दौड़ सकी है। पूर्व में विधानसभा चुनाव हो अथवा लोकसभा चुनाव, सभी में सपा को तीसरे और चौथे स्थान पर रह कर संतोष करना पड़ा है। इसका प्रमुख कारण 2005 में प्रदेश की तत्कालीन सपा सरकार द्वारा गौतमबुद्ध नगर जिले को समाप्त करना रहा है। तभी से लोगों के मन में सपा के प्रति नाराजगी दिखी है, लेकिन इस बार हालात बदले नजर आए।

सम्राट मिहिर भोज प्रकरण के चलते खासकर गुर्जर बिरादरी में भाजपा के प्रति नाराजगी दिखी। सपा-रालोद गठबंधन प्रत्याशियों ने इस प्रकरण को भुनाने का प्रयास किया। यहीं कारण है कि गौतमबुद्ध नगर की तीनों ही सीटों पर पहली बार सपा ने मजबूती से चुनाव लड़कर मुकाबले को दिलचस्प बनाया है। हालांकि, नोएडा सीट भले ही भाजपा के खाते में जाती नजर आ रही है, लेकिन जेवर मुकाबला दिलचस्प हो सकता है। गौतमबुद्ध नगर में यदि में किसी सीट पर सबसे ज्यादा दिलचस्प मुकाबला है तो वह जेवर विधानसभा सीट है। भाजपा प्रत्याशी व मौजूदा विधायक धीरेंद्र सिंह व रालोद-सपा गठबंधन प्रत्याशी अवतार सिंह भड़ाना के बीच हार-जीत का अंतर काफी कम रह सकता है।

बसपा प्रत्याशी नरेंद्र भाटी डाढ़ा ने मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने का प्रयास किया है। कांग्रेस के मनोज चौधरी चौथे नंबर की लड़ाई लड़ रहे हैं। एग्जिट पोल के हिसाब से दादरी में भी भाजपा के मौजूदा विधायक तेजपाल नागर के सिर फिर से ताज सज सकता है, लेकिन सपा के राजकुमार भाटी उन्हें टक्कर देते नजर आ रहे हैं। यहां भी बसपा के मनवीर भाटी ने मुकाबले को त्रिकोणीय बनाने का प्रयास किया है। कांग्रेस के दीपक भाटी चोटीवाला व आम आदमी पार्टी के संजय चेची चौथे व पांचवें नंबर की लड़ाई लड़ते नजर आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें- UP Election Result 2022: जानिए गौतमबुद्ध नगर की कौन सी विधानसभा सीट का परिणाम आएगा पहले

Edited By: Abhishek Tiwari