नई दिल्ली, एएनआइ। Unnao case: उन्‍नाव सामूहिक पीड़‍िता (Unnao assault Survivor) मामले की सुनवाई के लिए दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (All India Institute of Medical Sciences) के ट्रामा सेंटर में फास्‍ट ट्रैक कोर्ट लगाया गया है।

दिल्‍ली हाई कोर्ट (Delhi High Court) की अधिसूचना और अस्‍थाई कोर्ट लगाने की अनुमति के बाद  बुधवार को एम्स में कोर्ट लगाई गई है। समाचार एजेंसी एएनआइ मुताबिक, सुनवाई के लिए एम्स में ट्रायल कोर्ट के जज पहुंचे हैं। बुधवार को इन कैमरा यानी बंद कमरे में सुनवाई होगी। बता दें कि कार्यवाही की विस्तृत जानकारी प्रकाशित करने पर कोर्ट ने रोक लगा रखी है। 

बंद कमरे में दर्ज होंगे पीड़‍िता के बयान

उन्नाव रेप पीड़िता के बयान दर्ज करने की प्रक्रिया बंद कमरे में हो रही है इस दौरान किसी भी प्रकार की ऑडियो-वीडियो रिकॉर्डिंग की मनाही है। इसके लिए कोर्ट ने एम्स प्रशासन को निर्देश दिए हैं। इतना ही नहीं, सुनवाई के दौरान सेमिनार हॉल में लगे सीसीटीवी कैमरे भी बंद रहेंगे। इस दौरान पीड़ि‍ता और आरोपी का आमना-सामना न हो, इसकी भी व्‍यवस्‍था की गई है।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस