नई दिल्ली, एएनआइ। पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम (Karti Chidambaram) विदेश में यात्रा कर सकते हैं। इसमें फ्रांस और लंदन शहर भी शामिल है। विदेश में एक टेनिस टूर्नामेंट देखने के लिए उन्हें यह इजाजत मिली है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से यह इजाजत मांगी थी। अब कोर्ट ने आदेश दिए हैं कि इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने के एवज में उनको शीर्ष अदालत में 10 करोड़ रुपये जमा कराने होंगे। बता दें कि आज यानी शुक्रवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो और प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate-ED) ने  एयरसेल-मैक्सिस मामले में अपनी जांच की स्थिति रिपोर्ट दिल्ली की एक अदालत में दायर की है।

INX मीडिया केस और एयरसेल मैक्सिस केस में हैं आरोपित

कार्ति चिदंबरम और उनके पिता पी.चिदंबरम आइएनएक्स मीडिया केस और एयरसेल मैक्सिस केस में आरोपित हैं। फिलहाल वह जमानत पर रिहा है। इस पूरे मामले की छानबीन चल रही है और सुप्रीम कोर्ट ने जांच में सहयोग करने के निर्देश दिए हुए हैं। इससे पहले भी कार्ति ने विदेश जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाली थी। उस दौरान भी कोर्ट में 20 करोड़ रुपये जमा करने के बाद विदेश जाने की इजाजत मिली थी।

एयरसेल मैक्सिस डील केस में भी है आरोपित

यह केस फॉरेन इन्वेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड से जुड़ा हुआ मामला है। वर्ष 2006 में एयरसेल मैक्सिस डील को पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बतौर वित्त मंत्री मंजूरी दी थी। इन पर आरोप है कि उन्होंने बड़े प्रोजेक्ट पर बिना कैबिनट कमेटी की मंजूरी लिए पास किया। इस दौरान सामने आया कि उन्होंने इस डील के जरिये बेटे कार्ति चिदंबरम की कंपनियों को फायदा पहुंचाया।

इस मामले में कार्ति चिदंबरम की हो चुकी है गिरफ्तारी

इस मामले पर कार्ति को गिरफ्तार भी किया जा चुका है। फिलहाल वह बेल पर बाहर हैं। वहीं पी चिदंबरम से भी पूछताछ हो चुकी है। यही नहीं काफी दिनों तक पूर्व वित्त मंत्री को तिहाड़ भेजा गया था। फिलहाल कोर्ट ने उन्हेंने सशर्त जमानत दी हुई है। 

Posted By: Pooja Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस