नई दिल्ली, एएनआइ। शिरोमणि अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (PMC) में हुए जालसाजी के मामले में भारतीय रिवर्ज बैंक (Reserve Bank of India) को जिम्मेदार ठहराया है। सोमवार को उन्होंने कहा कि यह सहकारी बैंक है लेकिन इसे आरबीआइ संचालित करता है। इसके सभी मामले रिजर्व बैंक द्वारा संचालित होते हैं और इसकी जिम्मेदारी भी आरबीआइ की है।

मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि बैंक के उपभोक्ता अपना पैसा राह चलते किसी को नहीं दिए हैं बल्कि ये पैसा सरकार को दिया गया है। बैंक में धोखाधड़ी के लिए आरबीआइ (RBI) जिम्मेदार है। उन्होंने आरबीआइ से मांग करते हुए कहा कि बैंक उपभोक्ताओं के पैसे वापस करे।

बता दें कि मनजिंदर सिंह सिरसा दिल्ली की राजौरी गार्डन विधानसभा सीट से विधायक हैं। सिरसा ने साल 2017 में उपचुनाव में भाजपा और शिरोमणि अकाली दल गठबंधन के उम्मीदवार के तौर पर जीत हासिल की थी।

4 लोग हो चुके हैं गिरफ्तार

अभी हाल में ही मुंबई पुलिस ने पंजाब एंव महाराष्ट्र को- ऑपरेटिव बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह को गिरफ्तार किया है। इससे पहले मुंबई पुलिस ने 4355.43 करोड़ नुकसान पहुंचाने के आरोप में बैंक और एचडीआइएल के वरिष्ठ अधिकारियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की थी। वरयाम से पहले तीन लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

बता दें कि आरबीआइ द्वारा नियुक्त प्रशासक की शिकायत के आधार पर इन अधिकारियों के खिलाफ फर्जीवाड़ा और धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में पुलिस ने शिकायत दर्ज की थी। जानकारी के अनुसार, साल 2008 के बाद पीएमसी बैंक को 4,355.46 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। पुलिस ने बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयम सिंह, प्रबंधक निदेशक जॉय थामस और एचडीआइएल के निदेशक राकेश के खिलाफ मामला दर्ज किया है। इस मामले को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी संज्ञान लिया है।

EXCLUSIVE: NRC पर AAP का क्या है रुख, दिल्ली प्रभारी संजय सिंह ने दिया बड़ा बयान

 

 दिल्ली-NCR की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस