नई दिल्ली [संजीव गुप्ता]। दिल्ली में सातों लोकसभा सीटों पर हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित ने पार्टी आलाकमान को अपना इस्तीफा भेज दिया है। हालांकि उन्होंने अंतिम फैसला राहुल गांधी पर छोड़ दिया है। साथ ही शीला ने चुनावी नतीजों की समीक्षा के लिए एक कमेटी गठित करने का भी निर्णय लिया है। इस कमेटी की रिपोर्ट पर प्रदेश कांग्रेस में भी बड़े फेरबदल के आसार हैं। दिल्ली की सात में से पांच सीटों पर दूसरे नंबर पर आने के बावजूद कांग्रेस के उम्मीदवार भाजपा के उम्मीदवारों से काफी अधिक मतों से पराजित हुए हैं। पार्टी की इस हार के लिए प्रदेश इकाई के शीर्षस्थ नेताओं पर भी अंगुली उठ रही है। अभी एक दिन पहले ही पार्टी के कार्यकर्ताओं ने कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया को हटाने की मांग भी कर डाली। ऐसे में शीला ने सातों सीटों पर हुई हार की जिम्मेदारी स्वयं ली है।

पत्र को मेरा इस्तीफा समझिए
शनिवार को पार्टी अध्यक्ष के नाम भेजे गए पत्र में शीला ने लिखा है कि इस पत्र को मेरा इस्तीफा समझिए। आप जैसा कहेंगे, वैसा किया जाएगा। आपका निर्णय सर्वमान्य है। हालांकि राहुल गांधी की ओर से न तो अभी इस्तीफा स्वीकार किया गया है और न ही शीला को कोई जवाब दिया गया है। तीन सदस्यीय कमेटी करेगी हार की समीक्षा दूसरी तरफ शीला ने सातों सीटों पर पराजय के कारणों की समीक्षा के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित करने का निर्णय लिया है। कमेटी में प्रदेश के तीन वरिष्ठतम नेताओं को रखा जाएगा।

इसकी औपचारिक घोषणा सोमवार या मंगलवार को हो सकती है। यह कमेटी सप्ताह भर के भीतर अपनी रिपोर्ट देगी, जिसमें हार के कारणों सहित पार्टी या प्रत्याशियों की खामियों और मौजूदा स्थिति में सुधार के उपायों पर भी चर्चा होगी। इसी रिपोर्ट के आधार पर संगठन में बदलाव एवं विधानसभा चुनाव की रणनीति का खाका भी तैयार किया जाएगा।

  शीला दीक्षित (अध्यक्ष, दिल्ली कांग्रेस) का कहना है कि  मैंने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा भेज दिया है। वह जैसा उचित समझें, वैसा निर्णय लें। चूंकि यह पत्र मैंने उन्हें एक रोज पहले ही भेजा है, इसलिए अभी उनका जवाब नहीं आया है। जहां तक हार की समीक्षा के लिए कमेटी गठित करने का सवाल है तो वह भी एक दो दिन में हो जाएगा।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस