नई दिल्‍ली/पटना। शीला दीक्षित के बाद से दिल्‍ली कांग्रेस में अध्‍यक्ष पद के लिए हर दिन अटकलों का दौर चल रहा है। कई नामों के बीच एक बिहारी बाबू भी दौड़ में शामिल हैं। शॉटगन ने इन संभावनाओं पर भी अपनी चुप्‍पी तोड़ते हुए अपने ही अंदाज में जवाब दिया है। 

ऐसी संभावना है कि लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा से नाता तोड़कर कांग्रेस में शामिल होने वाले फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा को दिल्ली कांग्रेस की कमान सौंपी जा सकती है। बिहारी पृष्ठभूमि, तार्किक और दमदार आवाज होने के चलते शत्रुघ्न की संभावना अन्य दावेदारों पर भारी पड़ रही है।

कांग्रेस में दिल्ली समेत कई प्रदेशों में नए अध्यक्ष की चर्चा करीब हफ्ते भर से चल रही है। खुद शत्रुघ्न सिन्हा भी स्वीकार करते हैं कि ऐसी चर्चाओं से वह भी वाकिफ हैं। हालांकि आधिकारिक तौर पर उन्हें अभी तक कुछ नहीं बोला गया है। फिर भी वह नई जिम्मेदारी के लिए खुद को तैयार बताते हैं।

बकौल शत्रुघ्न, अगर पार्टी नेतृत्व मुझे इस लायक समझता है तो मैं भी पीछे नहीं हटूंगा, क्योंकि मैं जिस दल से जुड़ा हूं, उसके शीर्ष नेतृत्व के प्रत्येक आदेश को ईमानदारी से निभाना मेरा कर्तव्य होगा। शत्रुघ्न ने कहा कि पार्टी की अपेक्षाओं पर मैं कितना खरा उतर पाऊंगा यह तो वक्त बताएगा, लेकिन मेरे बारे में चर्चा के लिए भी मैं सबका शुक्रगुजार हूं। अगर मैं लायक हूं और पार्टी को मेरी जरूरत है तो मैं एक सिपाही की तरह बेहतर करने की कोशिश करूंगा। यह मेरे लिए सौभाग्य भी होगा।

शीला दीक्षित के निधन होने के बाद खाली हुई दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के दावेदारों में शत्रुघ्न सबसे आगे बताए जा रहे हैं। इसकी वजह भी है। दिल्ली में बिहार और उत्तर प्रदेश के लोगों की संख्या अधिक है। शत्रुघ्न खुद भी दिल्ली से भाजपा के टिकट पर लोकसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। हालांकि वह हार गए थे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस