नोएडा, जागरण संवाददाता। एक राष्ट्रीय पार्टी के नेता की शादी में महज कुछ ही घंटे शेष बचे हैं, लेकिन उससे पहले एक नया मोड़ आ गया है। नेता की पूर्व पत्नी ने उन पर तलाक के बाद घर पर जबरन रखकर 14 माह तक यौन शोषण करने और शारीरिक प्रताड़ना देने का आरोप लगाया है। पीडि़ता ने इस संबंध में नोएडा पुलिस से शिकायत की है।

पूर्व पत्नी से नेता को बच्चा भी

प्रकरण के संबंध में शुक्रवार को शाम साढ़े चार बजे सेक्टर-29 स्थित नोएडा मीडिया क्लब में प्रेसवार्ता हुई। इसमें नेता की पूर्व पत्नी ने आरोप लगाया कि उनकी शादी जुलाई, 2013 में दोनों परिवारों की रजामंदी से हुई थी। दोनों के एक बच्चा भी है।

बेटे की हत्या की धमकी देकर लिया तलाक

पूर्व पत्नी के मुताबिक, करीब ढाई साल तक दोनों का रिश्ता हंसी-खुशी चलता रहा। बाद में राष्ट्रीय पार्टी के नेता ने उन्हें शारीरिक और मानसिक रूप ये प्रताड़ित करना शुरू कर दिया और तलाक का दबाव बनाने लगा। तलाक न लेने पर बेटे की हत्या करने की धमकी दी। बेटे की जान बचाने के लिए मैंने रजामंदी से तलाक लेने के लिए हामी भर दी। पिछले वर्ष सितंबर में दिल्ली की कोर्ट में उनके तलाक को मंजूरी मिल गई।

बंधक बनाकर एक साल से अधिक किया शारीरिक शोषण

पूर्व पत्नी की मानें तो उन्होंने नेता से मायके भेज देने की बात कही, लेकिन उसने मना कर दिया और करीब 14 माह तक ससुराल में ही बंधक बनाकर रखा। यहां नेता और उसके छोटे भाई ने जबरन यौन संबंध बनाए। दूसरी शादी की जानकारी देने के बाद 25 नवंबर को घर से निकाल दिया।

आरोपित ने कही कानूनी कार्रवाई की बात

वहीं पार्टी के नेता का कहना है कि उन पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद है। यह सिर्फ प्रॉपर्टी हथियाने के लिए किया जा रहा है। आपसी सहमति से दोनों का तलाक हुआ था। तीन वर्ष से पूर्व पत्नी से अलग रह रहा हूं। मुझे बदनाम करने की कोशिश की जा रही है। इसके लिए कानूनी कार्रवाई करूंगा।

तलाक के बाद बनाए संबंध

पूर्व पत्नी का आरोप है कि तलाक लेने के बाद भी नेता ने उनसे जबरन यौन संबंध बनाए जो पूरी तरह से आपराधिक कृत्य है। इस संबंध में नोएडा पुलिस और एसएसपी से भी शिकायत की, लेकिन पुलिस ने कानूनी सलाह लेने की बात कहकर मामला दर्ज करने से इन्कार कर दिया। इसके बाद कानूनी सलाह लेनी पड़ी। जल्द ही वह इस बात की शिकायत राज्य महिला आयोग व कोर्ट में करेंगी।

पूरी बात से वाकिफ है प्रवक्ता

पूर्व पत्नी का आरोप है दूसरी पार्टी की प्रवक्ता पूरी बात से वाकिफ है। उन्होंने इस संबंध में उसको भी बताया था, लेकिन उसने इस मामले में कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया था।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस