नई दिल्ली, जेएनएन। Lok Sabha Election 2019: लोकसभा चुनाव-2019 की प्रक्रिया की कड़ी में 12 मई को दिल्ली की सातों सीटों पर मतदान होना है, ऐसे में कांग्रेस अब पूरी तरह चुनावी मोड में आ गई है। यही वजह है कि  आम आदमी पार्टी (AAM AADMI PARTY) के साथ गठबंधन की गफलत में कांग्रेस अब और समय नहीं गंवाएगी। मिली जानकारी के मुताबिक, बुधवार की शाम तक पार्टी दिल्ली की सातों सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर देगी। इससे बाबत राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के बाद संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ प्रदेश कांग्रेस प्रभारी पीसी चाको की मंत्रणा हो चुकी है।

यहां पर बता दें कि गठबंधन को लेकर AAP-कांग्रेस के बीच चल रही कवायद के बीच मंगलवार शाम छह बजे पीसी चाको ने सोनिया गांधी से मुलाकात की थी। करीब आधे घंटे की इस मुलाकात में दिल्ली की सियासी स्थिति पर विस्तार से चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक, इसमें सोनिया ने साफ कहा कि गठबंधन के चक्कर में उम्मीदवारों की घोषणा को नहीं टाला जाए।

AAP नेता गठबंधन पर कोई सकारात्मक रुख दिखाते हैं तो उस पर विचार कर लिया जाएगा। चार सीटों पर तो पार्टी अपने प्रत्याशी तय कर ही चुकी है, बुधवार को प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित से मुलाकात के बाद चाको बाकी बची तीन सीटों पर भी अपने उम्मीदवार तय कर देगी।

गठबंधन पर आज हो सकती है बैठक

पार्टी सूत्रों की मानें तो कांग्रेस की ओर से पीसी चाको और पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल बुधवार को एक बार फिर AAP नेताओं के साथ बैठक कर सकते हैं। अंदाजा इस बात का भी लगाया जा रहा है कि इस बैठक में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार दोनों पार्टियों के बीच मध्यस्थता कर सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, दोनों दलों में मंगलवार देर रात में वार्ता की भी चर्चा रही। ऐसे में बुधवार सारी स्थिति स्पष्ट होने की उम्मीद है।

लुकाछिपी का खेल बंद करें केजरीवाल
गठबंधन को लेकर कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा ने आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बड़ा दिल दिखाते हुए अपना रुख स्पष्ट कर दिया है। अब अरविंद केजरीवाल को भी लुकाछिपी का खेल बंद कर देना चाहिए।

संदीप दीक्षित ने किया चुनाव लड़ने से इनकार

मंगलवार सुबह पूर्वी दिल्ली से पूर्व सांसद संदीप दीक्षित ने प्रदेश प्रभारी पीसी चाको से उनके निवास पर मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होंने पूर्वी दिल्ली से चुनाव लड़ने से मना कर दिया। चाको के ओके कह देने के बाद अब इस सीट से शीला दीक्षित के ही चुनाव लड़ने की संभावना प्रबल हो रही है।

जाटव उम्मीदवार को मिले टिकट

गठबंधन को लेकर चल रही उठापटक के बीच अब कांग्रेस में जाटव समाज के प्रत्याशी को टिकट देने की मांग उठाई गई है। कबीर समाज और रविदास समाज की ओर से राहुल गांधी को एक पत्र लिखकर उत्तर पश्चिमी दिल्ली सीट पर जाटव उम्मीदवार को टिकट देने की मांग की गई है। इसके पीछे यहां पर जाटव समाज के मतों की बहुलता को कारण बताया गया है। इससे पूर्व कांग्रेस में मुस्लिम उम्मीदवार और वाल्मीकि उम्मीदवार को टिकट देने की मांग भी प्रमुखता से उठाई जा चुकी है।

चार-तीन के फॉर्मूले पर अड़ी कांग्रेस

सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस की ओर से अब गठबंधन के लिए अंतिम चौबीस घंटे का वक्त तय किया गया है। पार्टी सूत्रों की मानें तो कांग्रेस आप के साथ दिल्ली में चार-तीन के फॉर्मूले पर ही समझौता करेगी। हरियाणा या चंडीगढ़ में गठबंधन करने का पार्टी का कोई विचार नहीं है। अगर गठबंधन पर बात बनी तो कांग्रेस के खाते में नई दिल्ली, चांदनी चौक और उत्तर पश्चिम की सीट आएगी। इसमें नई दिल्ली से अजय माकन और उत्तर पश्चिम से राजकुमार चौहान का नाम तय माना जा रहा है। चांदनी चौक से कपिल सिब्बल और जेपी अग्रवाल में से किसी एक को यहां का उम्मीदवार बनाया जाना है, जिस पर सबकी नजर होगी।

राहुल करेंगे रैली और प्रियंका रोड शो

आम आदमी पार्टी से गठबंधन नहीं होने की सूरत में कांग्रेस ने दिल्ली में अपने प्रचार अभियान का खाका बुनना भी शुरू कर दिया है। इसी के तहत दिल्ली में प्रियंका वाड्रा का रोड शो और रामलीला मैदान में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की चुनावी रैली रखने की योजना है। हालांकि, इन दोनों ही कार्यक्रमों की तिथि अभी तय नहीं हुई है। यह गठबंधन पर स्थिति साफ होने पर तय होगी।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों के लिए यहां करें क्लिक

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस