नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया ट्रंप दिल्ली के सरकारी स्कूल में ‘हैप्पीनेस क्लास’ में शामिल होंगी। अमेरिका की प्रथम महिला नागरिक मेलानिया 25 फरवरी को दिल्ली के एक सरकारी स्कूल की हैप्पीनेस क्लास में पहुंचेंगी। यहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया उनका स्वागत करेंगे। आइये जानते हैं कि आखिर क्या है हैप्पीनेस क्लास, जिसके बारे में जानने के लिए मेलानिया ट्रंप उत्साहित हैं। 

हैप्पीनेस क्लास में बच्चों को कहानियां भी सुनाई जाती हैं। बच्चों ने बताया कि इस पाठ्यक्रम के तहत विभिन्न तरह की गतिविधि कराई जाती है। हर शनिवार को बच्चे कक्षा में अपने अनुभव साझा करते हैं। इस पाठ्यक्रम की परीक्षा नहीं होती। इस पाठ्यक्रम के शुरू होने के बाद बच्चों और शिक्षकों के बीच आत्मीयता बढ़ी है। इस पाठ्यक्रम से पहले जो औपचारिक संबंध भर था कि शिक्षक कक्षा में आए हैं तो पढ़ाएंगे ही जैसी बात खत्म हुई है। अब वे अपनी बातें साझा करने लगे हैं। पहली कक्षा के बच्चे इस पाठ्यक्रम की बदौलत स्कूलों से जुड़ाव महसूस करते हैं।

बच्चों को नहीं होती होमवर्क की चिंता

बच्चों ने बताया कि उन्हें इस पाठ्यक्रम से होमवर्क की चिंता नहीं होती। सबसे अच्छी गतिविधि कहानियों वाली लगती है। इसमें ‘माइंडफुलनेस’ गतिविधि भी कराई जाती है। आंख बंद कर आसपास के वातावरण को महसूस करने के बारे में कहा जाता है। जिसके बाद अन्य गतिविधियों के साथ-साथ नैतिक मूल्यों की बात भी की जाती है।

शिक्षाविदों ने की है तारीफ

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष अशोक गांगुली ने भी खुशी के पाठ्यक्रम की सराहना की है। उन्होंने कहा कि इस पाठ्यक्रम के जरिए बच्चों में उत्साह और उनके मनोबल को बढ़ाने में सहयोग मिलता है। ऐसे पाठ्यक्रम निजी स्कूलों में भी शुरू होने चाहिए।

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का दो दिवसीय दौरा 24 फरवरी से अहमदाबाद से शुरू होगा। 25 फरवरी को ट्रंप की पत्नी मेलेनिया ट्रंप ने दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में जाने की इच्छा जताई है। करीब 45 मिनट से एक घंटे का समय वह बच्चों के बीच बिताएंगी। इस दौरान उनका मूल मकसद दिल्ली सरकार की हैप्पीनेस क्लास के बारे में जानने/समझने का रहेगा। वह देखेंगी कि हैप्पीनेस क्लास के सहारे बच्चों का तनाव कैसे कम किया जाता है। साथ ही बच्चे हंसते-खेलते हुए कैसे पढ़ाई भी कर लेते हैं। सुरक्षा कारणों से अभी दौरे के समय और संबंधित स्कूल की जानकारी नहीं दी गई है। दौरे के शेड्यूल में इसकी पूरी जानकारी होगी।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस