नई दिल्ली, जेएनएन। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्र संघ चुनाव के नतीजों की घोषणा पर दिल्ली हाई कोर्ट की रोक के बाद, अब रविवार को छात्र संघ चुनाव समिति की तरफ से नतीजे जारी नहीं किए जाएंगे। इस मामले में चुनाव समिति के मुख्य चुनाव आयुक्त शशांक पटेल ने कहा कि हमारी तरफ से शुक्रवार को संपन्न हुए मतदान के बाद शनिवार को 11 बजे मतगणना शुरू कर दी गई। इसके साथ ही यह भी फैसला लिया गया है कि चुनाव समिति छात्र संघ चुनाव के अंतिम नतीजों को रोके रखेगी, लेकिन रुझानों को घोषित करेगी।

रात को रोकनी पड़ी मतगणना

शशांक ने कहा कि शुक्रवार की रात को 11.55 बजे हमें मतगणना रोकनी पड़ी क्योंकि छात्रों और विश्वविद्यालय की ग्रीवेंस रिड्रेसल सेल (जीआरसी) के बीच गतिरोध की स्थिति बनी हुई थी। जीआरसी की तरफ से कहा गया था कि सभी मतगणना के एजेंट को यह उपक्रम (अंडरटेकिंग) देनी है, वह नतीजों की घोषणा नहीं करेंगे। चुनाव समिति ने जीआरसी को इस मामले में बात भी की। जिसके कारण शुक्रवार रात 11.55 बजे से लेकर दोपहर 11 बजे तक करीब 11 घंटे तक मतगणना रुकी रही। अंत में हमने फैसला लिया कि वह मतगणना की प्रक्रिया को शुरू कर रहे हैं और रुझानों की घोषणा करेंगे, लेकिन अंतिम नतीजों को रोके रखेंगे।

छात्र संगठनों की तरफ से बताए जा रहे हैं रुझान

वहीं शनिवार की रात को 8 बजे तक छात्र संगठनों के सदस्यों की तरफ से जेएनयू छात्र संघ चुनाव के रुझानों के बारे में बताया गया। अखिल भारतीय छात्र संघ (आइसा) के सदस्य एन साईं बालाजी ने रुझानों के जारी किया। जिसमें स्कूल ऑफ लैंग्वेज, लिट्रेचर एंड कल्चर स्टडीज में मतगणना के 150 बैलेट के बारे में जानकारी दी। जिसमें अध्यक्ष पद, उपाध्यक्ष पद, महासचिव और संयुक्त सचिव पद पर वाम एकता के उम्मीदवार पहले नंबर पर और एबीवीपी के उम्मीदवार दूसरे नंबर पर हैं। इस स्कूल के कुल 1841 छात्रों के मतों में से सिर्फ 150 बैलेट की जानकारी दी गई। जिसमें अध्यक्ष पद पर वाम एकता की आईशी घोष को 78, एबीवीपी के मनीष जांगिड को 28, एनएसयूआइ के प्रशांत कुमार को 26, बापसा के जितेंद्र सुना को 14, छात्र राजद की प्रियंका भारती को 2 और निर्दलीय लड़ रहे राघवेंद्र मिश्र को एक भी मत नहीं मिले।

वहीं उपाध्यक्ष के पद पर वाम एकता के साकेत मून को 104, एबीवीपी की श्रुति को 30 और छात्र राजद के ऋषिराज को 4 मत मिले। वहीं सचिव पद पर वाम एकता के सतीश को 74, एबीवीपी के सबरीश को 37 और बापसा के वसीम को 24 मत मिले। साथ ही संयुक्त सचिव पर वाम एकता के मो. दानिश को 104 और एबीवीपी के सुमंता साहू को 33 मत मिले।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस