नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। Hyderabad Doctor Murder Case: हैदराबाद में महिला डॉक्टर की दुष्कर्म के बाद जलाकर हत्या किए जाने के विरोध में धरना देने वाली युवती अनु दुबे के आरोपों की जांच के लिए कमेटी का गठन हुआ है। अनु ने पुलिसकर्मियों पर बदसुलूकी का आरोप लगाया था। इस कमेटी की जांच रिपोर्ट के आधार पर ही कार्रवाई होगी। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मामले की जांच अभी जारी है।

दरअसल, शनिवार को धरने पर बैठीं अनु दुबे के हाथ में एक तख्ती थी, जिस पर लिखा था, ‘मैं अपने भारत में सुरक्षित महसूस क्यों नहीं कर सकती?’ इसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया था। थाने से बाहर आते ही उन्होंने तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ संसद मार्ग थाने में शिकायत दी थी। पीड़िता ने आरोपित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है। उनका आरोप था कि वह शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन कर रही थीं। इसी बीच पुलिसकर्मी जबरन उन्हें थाने में ले गए। वहां उनके साथ बदसुलूकी व मारपीट की गई। इस मामले में छात्र से मुलाकात के बाद दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने नई दिल्ली के डीसीपी को नोटिस जारी कर छात्र को हिरासत में लेने का कारण पूछा है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक गठित की गई टीम में पुरुष सहित महिला पुलिसकर्मियों को भी शामिल हैं। वहीं, आरोपों की जांच के लिए सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं, ताकि हकीकत सामने आ सके।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस