नई दिल्‍ली, जागरण संवाददाता। हरियाणा की करनाल सीट से भाजपा के पूर्व सांसद अश्‍विन चोपड़ा का शनिवार को गुरुग्राम के मेंदाता अस्‍पताल में निधन हो गया है। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व सांसद अश्‍विन चोपड़ा एक वरिष्‍ठ पत्रकार भी थे। अश्‍विन चोपड़ा पंजाब केसरी के संपादक थे। वह लंबे समय से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थे।

चोपड़ा करनाल सीट से 2014 से 2019 तक भाजपा के सांसद रहे। पार्टी उन्‍हें फिर से 2019 में चुनाव लड़ाने पर विचार कर रही थी मगर कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे अश्‍विन चोपड़ा ने स्‍वास्‍थ्‍य का हवाला देते हुए चुनाव लड़ने से मना कर दिया था। बीमारी से पीड़ित अश्विनी कुमार को 06 जनवरी 2020 को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनका इलाज डॉक्टर अश्विनी वैद्य कर रहे थे। 

पीएम मोदी ने भी ट्वीट करते हुए अश्‍विनी चोपड़ा के निधन पर शोक जताते हुए कहा कि उनके मीडिया में किए उल्‍लेखनीय कामों के लिए हमेशा याद किया जाएगा। उन्होंने जन प्रतिनिधि के रूप में लगन से काम किया और कई सामुदायिक कल्याण की पहल की। मेरी संवेदानाएं उनके परिवार और दोस्‍तों के साथ है।

पंजाब केसरी के मालिक और संपादक अश्‍विनी चोपड़ा के निधन पर कांग्रेस की कार्यकारी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने भी शोक जताते हुए कहा कि यह दुखद घटना है। उन्‍होंने कहा कि एमपी के तौर पर कई सामाजिक कार्यों को अंजाम दिया। उनकी दोस्‍ती सियासत से परे होती थी। इसलिए पक्ष-विपक्ष हर जगह उनकी पूछ होती थी।

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस