नई दिल्ली, जेएनएन। राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) ने ऑटो किराये में वृद्धि के संबंध में सोमवार को आदेश जारी कर दिए हैं। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। अब लोगों को ऑटो का बढ़ा हुआ किराया देना होगा। वहीं बढ़े हुए किराये को लेकर ऑटो चालक असमंजस में हैं। उनका कहना है कि मीटर में सॉफ्टवेयर बदले बिना इसे लागू करना परेशानी भरा है। चालकों और सवारियों के बीच विवाद की भी स्थिति बन सकती है।

सॉफ्टवेयर बदलने के लिए कुछ दिन का समय दिया जाना चाहिए था। इस समस्या को देखते हुए परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने मंगलवार को ऑटो चालकों की बैठक बुलाई थी। अब लोगों को ऑटो से यात्रा करने पर पहले से अधिक पैसे चुकाने होंगे। पहले 25 रुपये में 2 किलोमीटर पर मीटर डाउन होता था, लेकिन नए किराये दर में इसे 1.5 किलोमीटर कर दिया गया है। पहले 2 किलोमीटर के बाद यात्रियों को 8 रुपये प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान करना पड़ता था, लेकिन अब नौ रुपये 50 पैसे प्रति किलोमीटर की दर से भुगतान करना होगा।

पहले वेटिंग शुल्क 50 पैसे प्रति मिनट था, जिसे बढ़ाकर 75 पैसे प्रति मिनट कर दिया गया है। पहले के 15 मिनट के न्यूनतम वेटिंग के कैप को हटा दिया गया है। ट्रैफिक जाम में फंसने और जाम के कारण ट्रैफिक बेहद धीमा होने पर भी लोगों को वेटिंग शुल्क का भुगतान करना होगा।

दिल्ली सरकार का कहना है कि किराये में वृद्धि के बावजूद मुंबई की तुलना में दिल्ली में ऑटो किराया अब भी सस्ता है। ऑटो किराये में वृद्धि की अधिसूचना दिल्ली सरकार ने 12 जून को जारी की थी।

दिल्ली सरकार पर लगा निजी कंपनियों से मिलीभगत का आरोप
दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निजी टैक्सी कंपनियों से साठगांठ करने का आरोप लगाया है। मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली के ऑटो वालों को केजरीवाल गुमराह करके उन्हें बर्बादी की ओर ले जा रहे हैं, क्योंकि साढ़े चार साल बीत जाने के बाद भी केजरीवाल ने ऑटो चालकों से किए गए एक भी वादे को पूरा नहीं किया है। निजी वाहन कंपनियों के पास किराया कम व ज्यादा करने की छूट होती है, जबकि ऑटो वालों के पास यह सुविधा नहीं है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ऑटो चालकों का अस्तित्व खत्म करना चाहते हैं। मनोज तिवारी ने कहा कि ऑटो का किराया बढ़ाकर वह ऑटो वालों के ही दुश्मन बन गए हैं, क्योंकि आम नागरिक ऑटो का किराया बढ़ने से निजी टैक्सी कंपनियों की ओर रुख करने लगेगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि आम आदमी पार्टी (AAP) ने हजारों ऑटो स्टैंड बनाने के साथ बुराड़ी अथॉरिटी में कालाबाजारी खत्म करने का वादा किया था, लेकिन न तो ऑटो स्टैंड बने और न ही कालाबाजारी खत्म हुई। एक ऑटो में दो हजार का लगने वाला मीटर 15 हजार रुपये में लग रहा है।

केजरीवाल ने ग्रामीण सेवा के किराये पर रिपोर्ट मांगी
ग्रामीण सेवा चालकों ने सोमवार को दिल्ली सचिवालय में अपनी समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री अर¨वद केजरीवाल से मुलाकात की। चालकों ने ग्रामीण सेवा के रूट फिर से निर्धारित करने की मांग करते हुए बताया कि इन रूटों पर बैटरी रिक्शा आ जाने से उनका काम प्रभावित हो रहा है। ग्रामीण सेवा का किराया बढ़ाने की भी मांग की। चालकों ने बताया कि उनका किराया 2009 से नहीं बढ़ा है। ग्रामीण सेवा यूनियन के नेता चंदू चौरसिया ने बताया कि अभी किराया 5 रुपये, 10 रुपये और 15 रुपये है, जिसे बढ़ाकर 10 रुपये, 20 रुपये व 30 रुपये किए जाने का प्रस्ताव दिया गया है। मुख्यमंत्री ने इस बारे में परिवहन विभाग से रिपोर्ट मांगी है। बैठक में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत भी मौजूद थे।

दिल्ली-NCR की ताजा खबरों को पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस