नई दिल्ली [वीके शुक्ला]। दिल्ली में ऑड-इवेन (odd-even) बढ़ाए जाने पर फैसला दिल्ली सरकार सोमवार को करेगी। दिल्ली सचिवालय में आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पराली से प्रदूषण दिल्ली में भी हवा को जहरीला बनाए हुए है। हम बार बार केंद्र हरियाणा और पंजाब सरकार से अनुरोध कर रहे हैं कि पराली जलाने से रोकें। लेकिन इसके बावजूद कुछ नही किया गया है। हमारे पास प्रदूषण रोकने के लिए जो भी संभव है हम कर रहे हैं। मगर दो दिन तक इंतजार किया जाएगा। उसके बाद सोमवार को इस बारे में फैसला लिया जाएगा।

केजरीवाल ने कहा कि हम नही चाहते हैं कि दिल्ली के लोग बेवजह परेशान हों। दो दिन की हम प्रदूषण की स्थिति देखेंगे। उसके बाद सोमवार को सुबह फैसला लिया जाएगा कि ऑड-इवेन की मियाद बढ़ाई जाएगी या नहीं।

ऑड-इवेन स्कीम का शुक्रवार को अंतिम दिन

ऑड-इवेन योजना का शुक्रवार को आखिरी दिन था। योजना के आखिरी दिन नियमों में किसी तरह का उल्लंघन न हो इसके लिए यातायात पुलिसकर्मियों को सचेत रहने को कहा गया था। प्रदूषण से जूझ रही राजधानी को राहत दिलाने के लिए दिल्ली सरकार ने चार नवंबर को ऑड-इवेन योजना की शुरुआत की थी। योजना के तहत ऑड नंबर की तारीख पर ऑड नंबर के वाहन और इवेन नंबर की तारीख पर इवेन वाहन चलने हैं। इसलिए 15 नवंबर को ऑड नंबर के वाहन ही सड़क पर उतरें हैं। योजना को सफलता पूर्वक राजधानी में लागू करने के लिए दिल्ली सरकार ने यातायात पुलिस व लोगों की सराहना की है।

ऑड-इवेन के उल्लंघन पर 330 वाहनों के हुए चालान

बृहस्पतिवार को 11वें दिन भी इस नियम का उल्लंघन करने पर 330 वाहनों के चालान किए गए। राजधानी में चार नवंबर से ऑड इवेन की व्यवस्था को 15 नवंबर तक लागू किया गया है। किस दिन कौन से वाहन सड़कों पर चलेंगे, इसका निर्धारण करने के साथ इसके बारे में विभिन्न माध्यमों से लोगों को सूचना भी दी गई थी। इस व्यवस्था के लागू होने के पहले दिन विभिन्न स्थानों पर लोगों के चालान करने के बजाय उन्हें जागरूक किया गया था। बृहस्पतिवार को यातायात पुलिस ने ऑड-इवेन के उल्लंघन पर 194 वाहनों के चालान किए। परिवहन विभाग द्वारा 89 और राजस्व विभाग द्वारा 47 वाहनों के चालान किए गए।

 

INX Media case: कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को दिल्ली हाई कोर्ट से बड़ा झटका, नहीं मिली जमानत

Tis Hazari Court clash: गोली चलाने के आरोपित 2 पुलिसकर्मियों को हाई कोर्ट से बड़ी राहत

  दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

Posted By: Mangal Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस