नई दिल्ली, एएनआइ। आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार दोपहर गृहमंत्री अमित शाह से उनके आवास पर हुई मुलाकात के बाद कहा कि शाहीन बाग को लेकर उनसे कोई बातचीत नहीं हुई है। बता दें कि 15 दिसंबर से दक्षिण दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है। इस प्रदर्शन को लेकर मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है और कोर्ट द्वारा नियुक्त तीन वार्ताकार शाहीन बाग प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए पहुंचे हैं।  

वहीं, दोपहर हुई अरविंद केजरीवाल और अमित शाह के बीच बैठक को एक औपचारिक मुलाकात बताया जा रहा है। दोनों के बीच यह मुलाकात नॉर्थ ब्लॉक में अमित शाह के आवास पर हुई। बताया जा रहा है कि मुलाकात के दौरान दिल्ली को लेकर कई मुद्दों पर बातचीत हुई, लेकिन इस बारे में मीडिया को कोई जानकारी नहीं मिली है। 

गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात को लेकर अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर जानकारी दी है। उन्होंने ट्वीट किया है- गृहमंत्री माननीय अमित शाहजी से मुलाकात हुई। यह मुलाकात बेहद अच्छी रही। दिल्ली से जुड़े कुछ अहम मुद्दों पर अमित शाहजी से चर्चा हुई। दोनों ने ही दिल्ली के विकास के लिए एकसाथ मिलकर काम करने को लेकर सहमति जताई है।

गौरतलब है कि अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को अपने मंत्रिमंडल के सहयोगियों सत्येंद्र जैन, मनीष सिसोदिया, इमरान हुसैन, गोपाल राय, कैलाश गहलोत और राजेंद्र पाल गौतम के साथ महत्वपूर्ण बैठक के बाद अमित शाह के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की। बतौर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अमित शाह के साथ यह पहली बैठक हुई। 

यहां पर बता दें कि रविवार को दिल्ली सरकार को शपथ ग्रहण समारोह दिल्ली के रामलीला मैदान में हुआ था। अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत दिल्ली के सातों सांसदों हर्ष वर्धन (चांदनी चौक), मनोज तिवारी (उत्तर पूर्वी दिल्ली), हंसराज हंस (उत्तर पश्चिमी दिल्ली), प्रवेश वर्मा (पश्चिमी दिल्ली), रमेश बिधूड़ी (दक्षिणी दिल्ली) और मीनाक्षी लेखी (नई दिल्ली) को भी बुलाया था, लेकिन इनमें से कोई नहीं आया। सिर्फ रोहिणी से भारतीय जनता पार्टी के विधायक विजेंद्र गुप्ता शपथ ग्रहण में शामिल हुए थे।

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस