नई दिल्ली, जागरण संवाददाता। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को 73वें पुलिस स्थापना दिवस के मौके पर कहा कि दिल्ली पुलिस अराजक तत्वों से निपटने में संयम बरते। शाह ने कहा कि जब आप पीछे देखते हैैं तो पता लगता है कि दिल्ली पुलिस न केवल देश में बल्कि पूरे विश्व में सबसे अच्छे पुलिस बलों में से एक है। दिल्ली पुलिस को गर्व महसूस करना चाहिए कि इसकी नींव भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल ने रखी थी।

पुलिसकर्मियों को दी श्रद्धांजलि 

उन्होंने पुलिस मेमोरियल का दौरा करके पुलिस बलों के लिए बलिदान देने वाले पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने महिला सुरक्षा को और बेहतर करने के लिए 9300 और सीसीटीवी कैमरों 1600 अतिरिक्त बाइक सहित 4500 नए वाहन उपलब्ध कराने की घोषणा की। उन्होंने सेफ सिटी प्रोजेक्ट के तहत 857 करोड़ देने की घोषणा की और कर्मचारियों को बेहतर आवास और कार्य वातावरण प्रदान करने के लिए रोहिणी और नरेला में 700 और फ्लैट को मंजूरी दिए जाने की घोषण की। उन्होंने पीएफडब्ल्यूएस के प्रयासों को प्रदर्शित करते हुए प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया।

कई पुलिसकर्मियों को किया सम्‍मानित

शाह रविवार को नई पुलिस लाइन ङ्क्षकग्सवे कैंप ग्राउंड में 73वें पुलिस स्थापना दिवस के मौके पर मुख्य अतिथि थे। उन्होंने 42 पुलिसकर्मियों को शौर्य पदक, विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पदक और मेधावी सेवा के लिए पुलिस पदक से सम्मानित किया। उन्होंने दिल्ली पुलिस के दंगा निरोधी दस्ते, सशस्त्र पुलिस, महिला पुलिस, पुलिस कमांडो, डॉग स्क्वायड, माउंटेड पुलिस, ट्रैफिक स्क्वायड, मोबाइल साइबर लैब, स्वाट और रक्षक वज्र की टुकडिय़ों के साथ परेड का निरीक्षण किया। बेस्ट पुलिस स्टेशन की ट्रॉफी सदर बाजार थाने को मिली। दूसरे स्थान पर कालकाजी थाना और फर्श बाजार थाना तीसरे स्थान पर रहा। इस मौके पर हुई परेड में महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और हरियाणा पुलिस की टुकडिय़ों के साथ मार्च पास्ट किया।

हमारी सुरक्षा के लिए है पुलिस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बात को दोहराते हुए गृहमंत्री ने कहा की हर नागरिक को यह ध्यान रखना चाहिए कि पुलिस हमारी सुरक्षा के लिए है। केवल उसकी आलोचना करना या उपद्रवियों का उसे निशाना बनाना ठीक नहीं है। हमें उनके काम को समझना चाहिए। उन्होंने कहा कि पुलिस देश में शांति व सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने का काम बिना किसी धर्म या जाति देखकर करती है और जरूरत के समय मदद भी करती है।

दुश्मन न किसी की, शांति की दोस्त

शाह ने कहा कि पुलिस किसी की दुश्मन नहीं है। पुलिस शांति और व्यवस्था की दोस्त है। इसलिए सदैव उसका सम्मान किया जाना चाहिए। गृहमंत्री ने कहा कि हर नागरिक पुलिस की आलोचना करने वालों और उन पर व्यंग्यात्मक टिप्पणी करने वालों को ध्यान से सुने। परंतु यह भी ध्यान रखना आवश्यक है कि भारत की आजादी के बाद 35000 से अधिक जवानों ने देश की सुरक्षा और कानून व्यवस्था को बनाए रखने के लिए सर्वोच्च बलिदान दिया है।

चुनौतियों से भरा था पिछला साल : अमूल्य पटनायक

इस मौके पर पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक ने कहा कि बीता हुआ वर्ष सबसे कठिन और चुनौतियों से भरा था, लेकिन समर्पण और कड़ी मेहनत के साथ, पुलिस बल ने हर चुनौती का सामना बेहतर तरीके से किया। दिल्ली में जघन्य अपराधों को कम करने के लिए प्रत्येक पुलिसकर्मी ने कड़ी मेहनत की। दिल्ली पुलिस प्रधानमंत्री के स्मार्ट पुलिसिंग के दृष्टिकोण के साथ तकनीकी रूप से भी दक्ष हो रही है। मिशन ओलंपिक-2020 के तहत पुलिस परिवारों के लिए कई कल्याणकारी उपाय शुरू करने और पुलिस वार्डों के संभावित खिलाड़ियों  को बढ़ावा देने के लिए पुलिस फैमिली वेलफेयर सोसायटी (पीएफडब्ल्यूएस) की सराहना की। कार्यक्रम के दौरान पुड्डुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी सहित काफी संख्या में पूर्व और वर्तमान पुलिस अधिकारी मौजूद रहे। 

दिल्‍ली-एनसीआर की खबरों को पढ़ने के लिए यहां करें क्‍लिक

Posted By: Prateek Kumar

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस