जेएनएन, सिरसा। अजय सिंह चौटला की पत्‍नी व सांसद दुष्‍यंत चौटाला की मां नैना चौटाला शुक्रवार को यहां अपने देवर अभय चौटाला पर जमकर बरसीं। उन्‍होंने कहा कि शनिवार को जीेंद में इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) का झंडा और डंडा गाड़ेंगे। हमें राजनीतिक साजिश का शिकार बनाया गया है, लेकिन इसका जवाब पार्टी के कार्यकर्ता आैर जनता देगी।

सिरसा के जमाल में आयोजित हरी चुनरी चौपाल के दौरान नैना चौटाला ने अभय चौटाला गुट पर जमकर हमले किए। अपने भाषण के दौरान परिवार के साथ हुए व्‍यवहार की चर्चा करते हुए वह कई बार भावुक हुईं। उन्होंने कहा कि अब पार्टी पर पूरी तरह से अभय सिंह चौटाला ने कब्जा कर लिया है। लेकिन, हम चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को दिखा देंगे कि कब्‍जा करने से नहीं बल्कि जनभावना से संगठन मजबूत होता है।

यह भी पढ़ें: छोटे भाई से बाेले अजय चौटाला- मैं तो घर के गेट पर खड़ा था, तूने तो बाहर धक्‍का दे दिया

नैना चौटाला ने इस दौरान अभय चौटाला पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, हमें राजनीतिक षड्यंत्र का शिकार बनाया गया है। हमारे साथ रहने वालों को धमकियां दी जा रही हैं। दुष्यंत और दिग्विजय को बिना कसूर के पार्टी से निकाल दिया गया है। हद तो यह हो गई कि इनेलो को खड़ा करने वाले अजय सिंह चौटाला को भी पार्टी से बाहर कर दिया गया है।

सिरसा के जमाल में आयोजित हरी चुनरी चौपाल के दौरान नैना चौटाला।

नैना चौटाला ने कहा कि इनेलो के कुछ विधायकों को डर के मारे हिमाचल के पहाड़ों में लेकर गए हैं, लेकिन नैना चौटाला ने कहा कि पहाड़ों से कितने दिन काम चलेगा, आखिरकार आना तो जनता के बीच ही पडे़गा। उन्होने कहा कि जब जनता के बीच वोट मांगने आएंगे तब उनको भी हकीकत का अंदाजा हो जाएगा। उन्होंने कहा कि ढाई साल से उनका परिवार यातनाएं सहता रहा। जो भी व्यक्ति उनके साथ दिखता उसे धमकाया जाता या उसे पार्टी से निकाल दिया जाता। आज भी उन्हें किसी न किसी रूप में डराने का प्रयास किया जा रहा है।

नैना सिंह चौटाला ने कहा कि वह आज भी अधिक नहीं बोलना चाहती लेकिन बोलने पर विवश हुई हैं। पार्टी पर कब्‍जा करने वाले जिसे मन आता है उसे संगठन से निकाल देते हैं। अजय सिंह चौटाला का तो कोई कसूर नहीं था फिर भी उन्हें पार्टी से निकाला दे दिया गया। हरियाणा के एमएलए को परमाणु में रखा गया है, लेकिन कितने दिन ठंडी हवाएं खिलाओगे। उन्होंने कहा कि जनता सब का जवाब मांगेगी और अब ताकत दिखाने का वक्त आ गया है।

उन्‍होंने अभय चौटाला पर हमला बोलते हुए कहा कि चाहे कोई साधु का चोला पहन ले लेकिन फितरत नहीं बदलती है। लेकिन, ऐसे लोग समझ लें अब डराने-धमकाने का वक्त चला गया है। गुंडे तो गुंडे ही रहेंगे। अजय सिंह व उनके परिवार पर आरोप लगाने वाले पहले अपने गिरेबान में झांक लें। यदि वह दुष्यंत और नैना को सांसद और एमएलए बना रहे थे तो उनके परिवार को जिला परिषद चुनाव लड़ने की क्या जरूरत पड़ी थी।

यह भी पढ़ें: चौटाला परिवार में विवाद की इनसाइड स्‍टोरी, जुड़ते-जुड़ते टूट गई भाइयों की कड़ी

उन्होंने कहा कि अब एक मौका दुष्यंत को मिलना चाहिए। पार्टी पर अभय सिंह चौटाला ने कब्जा कर लिया है लेकिन अब चौधरी ओमप्रकाश चौटाला को दिखा देंगे कि पार्टी कब्‍जे से नहीं बल्कि जन भावना से चलती और मजबूत होती है। उन्होंने कहा कि उनमें हिम्मत है तो नैना सिंह चौटाला को पार्टी से निकाले।

नैना चौटाला ने कहा कि अभय  सिंह चौटाला खुशनसीब हैं जो उन्हे अजय सिंह जैसे सहनशील भाई मिले हैं। नैना चौटाला ने कहा कि चुनाव में दुष्यंत चौटाला को जितवा कर मुख्यमंत्री बनाना है और इस गुंडागर्दी के माहौल से जनता का पीछा छुड़वाना है।

सिरसा के जमाल में आयोजित हरी चुनरी चौपाल कार्यक्रम में मौजूद महिलाएं।

नैना चौटाला ने महिलाओं की समस्याओं को लेकर कहा, हमें बेजुबान मत समझना और साल 2019 में महिलाओं की सबसे बड़ी वकील के रुप में जनता के बीच काम करुंगी। नैना चौटाला ने नोटबंदी की चर्चा करते हुए भाजपा सरकार पर भी निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तो महिलाओं के कुछ जमा किए हुए पैसे भी नोटबंदी में निकलवा दिये ।

यह भी पढ़ें: अजय व अभय की जंग में बडा रहस्‍य, हिमाचल की वादियों में रुके 10 विधायक किसके

नैना चौटाला ने आज पेंशन को लेकर इतनी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। महिलाओं को डाकघरों के चक्कर काट रहे हैं। बुजुर्ग महिलाओं को इस प्रकार से चक्कर कटवाना अच्छी बात नहीं है। उन्होने बताया कि हमारी सरकार आने पर घर-घर जाकर बुजुर्गों को पेंशन दी जाएगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस