कोलकाता, जागरण संवाददाता। कोलकाता महानगर समेत पूरे राज्य में दुर्गापूजा की धूम है। इस बीच चक्रवाती तूफान तितली के कारण त्यौहार का मजा किरकिरा होने के आसार हैं। बुधवार को महानगर समेत जिलों में बारिश हुई। बारिश के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को भी करीब आधे दर्जन पूजा पंडाल का उद्घाटन किया। कुछ जगह वे खुद उपस्थित हुईं तो कुछ जगह जहां वे पहुंच नहीं पाई वहां वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया।

बुधवार को ही सुश्री बनर्जी ने एकडलिया एवरग्रीन पंडाल का भी उद्घाटन किया और यहीं से उन्होंने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए इंटाली उदयन संघ का उद्घाटन किया। बता दें कि एकडलिया एवरग्रीन दुर्गोत्सव का आयोजन मंत्री सुब्रत मुखर्जी द्वारा किया जाता है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने खराब मौसम को देखते हए कहा कि प्रकृति किसी के हाथ में नहीं, प्रकृति के उतार-चढ़ाव को साथ लेकर चलना होगा।

एकडलिया के बाद वे फाल्गुनी संघ, सिंघी पार्क, बालीगंज कल्चरल एसोसिएशन पूजा पंडाल का उद्घाटन करने पहुंची। इससे पहले उन्होंने मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य द्वारा आयोजित हिन्दुस्तान पार्क दुर्गापूजा पंडाल का उद्घाटन किया।

उक्त सभी जगहों से अधिक समय सुश्री बनर्जी ने एकडलिया एवरग्रीन के लिए दिया। दीप प्रज्वलित कर, मंत्रोउच्चारण के साथ उद्घाटन किया और श्लोक भी पढ़ा। यहां सुब्रत मुखर्जी की पत्नी छन्दवाणी मुखर्जी ने ममता बनर्जी को बनारसी साड़ी उपहार भेंट किया। हालांकि उपहार स्वीकार करने के बावजूद वे साड़ी अपने साथ नहीं ले गईं और छन्दवाणी मुखर्जी को ही उपहार भेंट कर दिया।

उन्होंने कहा कि मुझे और उपहार न दें मैं कहां रखुंगी। बता दें कि महालया के दिन से ही मुख्यमंत्री लगातार विभिन्न पूजा पंडालों का उद्घाटन कर रही हैं। उन्हें 10,000 से अधिक पूजा पंडालों के उद्घाटन का आमंत्रण मिला है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस