राज्य ब्यूरो, कोलकाता :  कोरोना काल में गरीबों को सरकार फ्री राशन दे रही है। अब इसी राशन के बहाने राजनीतिक हित साधने की कोशिशें भी शुरू हो गई हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को नवंबर तक बढ़ाने की घोषणा की। इधर, इसके तुरंत बाद बंगाल की मुख्यमंत्री व तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने पीएम से दो कदम आगे बढ़ते हुए राज्य में फ्री राशन देने की योजना को जून, 2021 तक बढ़ाने की घोषणा कर दी। इससे पहले ममता ने लॉकडाउन शुरू होने के दौरान 8 करोड़ से ज्यादा गरीब परिवारों को 6 महीने तक (अप्रैल से सितंबर) मुफ्त में राशन देने की घोषणा की थी।

पीएम के संबोधन के तुरंत बाद राज्य सचिवालय नवान्न में संवाददाता सम्मेलन में ममता ने कहा- 'मैं राज्य में गरीबों को मुफ्त में राशन देने की योजना को जून 2021 तक बढ़ा रही हूं।'ममता ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार को पूरी जनता को फ्री राशन देना चाहिए। गौरतलब है कि इसी साल बिहार में और 2021 में बंगाल में विधानसभा के चुनाव भी होने हैं। ऐसे में राशन दिए जाने की समयसीमा बढ़ाने को चुनावों से जोड़कर देखा जा रहा है। ममता की नजर 2021 में अपनी सत्ता बचाने पर है। उन्हें लग रहा है कि कहीं भाजपा इसका फायदा ना उठा ले इसीलिए पीएम की घोषणा के बाद उन्होंने भी मुफ्त में राशन देने की घोषणा कर दी।  

ऐप बैन पर्याप्त नहीं, चीन को मुंहतोड़ जवाब देना जरूरी'

केंद्र द्वारा 59 चाइनीज मोबाइल ऐप्स को बैन किए जाने के फैसले पर ममता ने कहा, 'सिर्फ ऐप बैन करना पर्याप्त नहीं है। चीन को मुंहतोड़ जवाब देना जरूरी है, ताकि भविष्य में वह इस प्रकार की जुर्रत ना कर सके।' गौरतलब है कि लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुए संघर्ष के बाद से ही दोनों देशों की बीच तनाव जारी है। केंद्र सरकार ने चाइनीज मोबाइल ऐप्स पर डेटा लीक करने का आरोप लगाते हुए 59 ऐप्स को बैन कर दिया है।

मेट्रो व विमान सेवाओं को लेकर केंद्र को लिखी चिट्ठी 

इसके अलावा ममता ने बताया कि राज्य में मेट्रो और विमान सेवाओं के लिए आज मुख्य सचिव ने केंद्रीय गृह सचिव को चिट्ठी लिखी है। उन्होंने कहा कि जैसा कि 15 जुलाई तक अंतरराष्ट्रीय फ्लाइट्स रोकी गई हैं, वैसे ही हमने मांग की है कि हॉटस्पॉट वाले इलाकों से घरेलू फ्लाइट्स भी ना आएं। साथ ही जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों के लिए मेट्रो सेवा जल्द शुरू करने का अनुरोध किया है। 

मॉर्निंक वॉक की अनुमति, शादी व श्राद्ध में 25 के बदले 50 लोग हो सकेंगे शामिल 

ममता ने इसके अलावा 1 जुलाई से शुरू हो रहे अनलॉक-2 के दौरान राज्य में कई छूट देने की भी घोषणा की। उन्होंने कहा, 'हम सुबह 5:30 बजे से 8:30 बजे तक मॉर्निंग वॉक की अनुमति दे रहे हैं लेकिन शारीरिक दूरी का ध्यान रखना होगा। शादियों और  श्राद्ध में अब 25 की जगह 50 लोगों के इकट्ठा होने की भी उन्होंने अनुमति दी। 

मोदी व ममता के बीच चल रहा है घोषणाओं का कंपीटिशन : कांग्रेस

इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा गरीबों को मुफ्त में राशन देने की योजना को बढ़ाए जाने की घोषणा पर कांग्रेस ने निशाना साधा। प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष सोमेन मित्रा ने कहा कि पीएम मोदी व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच घोषणाओं का कंपीटिशन चल रहा है। उन्होंने कहा कि लोगों को इसका लाभ मिला कि नहीं यह नहीं देख कर दोनों में घोषणाओं की होड़ मची है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस