अहमदाबाद, राज्य ब्यूरो। Bullet Train Project. बुलेट ट्रेन परियोजना को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की टिप्पणी पर गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा कि यह किसी राज्य की नहीं, बल्कि राष्ट्रीय महत्व की परियोजना है। रोजना हजारों लोग व्यापार के सिलसिले में अहमदाबाद से मुंबई जाते-आते हैं। परियोजना पूरी होने के बाद अहमदाबाद से मुंबई की यात्रा समय में उल्लेखनीय कमी आएगी।

गुजरात भाजपा के प्रवक्ता भरत पांड्या ने परियोजना में उद्धव से सहयोग की अपेक्षा जताई। उन्होंने कहा कु युवा पीढ़ी का सपना होता है कि उनके देश में भी आधुनिक परियोजनाएं शुरू हों। बुलेट ट्रेन देश के लिए गौरव साबित होगी।

जानें, उद्धव ठाकरे ने क्या कहा 

शिवसेना प्रमुख व महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रेजेक्ट मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना को 'सफेद हाथी' बताया। उद्धव ने कहा कि इस परियोजना पर वह तभी कोई फैसला लेंगे जब आश्वस्त हो जाएंगे कि इससे प्रदेश में औद्योगिक विकास को बल मिलेगा।

पार्टी के मुखपत्र सामना को दिए गए साक्षात्कार के दूसरे भाग में उद्धव ने कहा, 'बुलेट ट्रेन का लाभ किसे मिलेगा? इस परियोजना से महाराष्ट्र के व्यापार और उद्योग के विकास को कैसे बल मिलेगा? अगर यह लाभप्रद है तो मुझे आश्वस्त करें। इसके बाद जनता से पूछा जाएगा और उन्हें तय करने दिया जाएगा कि क्या करना है। बुलेट ट्रेन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ड्रीम परियोजना हो सकती है, लेकिन जब आप जागेंगे तो आपको वास्तविकता का सामना करना पड़ेगा।'

सामना के कार्यकारी संपादक संजय राउत को दिए गए साक्षात्कार में उद्धव ने कहा कि विकास परियोजनाओं को राज्य की वित्तीय स्थितियों के मुताबिक प्राथमिकता दी जानी चाहिए। उन्होंने कहा, 'हमें यह देखना चाहिए कि जरूरी क्या है? हमें इसलिए कुछ नहीं करना चाहिए कि शून्य या बहुत कम ब्याज पर कर्ज मिल पा रहा है। हमने बिना किसी कारण के किसानों की जमीन अधिगृहीत कर ली और अब उस सफेद हाथी की देखरेख करनी पड़ रही है।'

उल्लेखनीय है कि नरेंद्र मोदी सरकार ने बुलेट ट्रेन परियोजना को पूरा करने की समय सीमा 15 अगस्त 2022 तय की है। तब आजादी के 75 साल होने पूरा देश जश्न मना रहा होगा। जापानी तकनीक वाली यह परियोजना भारत में हाईस्पीड ट्रेन की शुरुआत मानी जा रही है। बुलेट ट्रेन की गति 350 किलोमीटर प्रति घंटे होगी। 508 किलोमीटर से लंबी इस परियोजना का 155.76 किलोमीटर हिस्सा महाराष्ट्र, 348.04 किलोमीटर गुजरात व 4.3 किलोमीटर दादरा व नगर हवेली में होगा।

गुजरात की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस