चंडीगढ़, जेएनएन।  पंजाब और हरियाणा के बीच एक बार फिर एसवाईएल (सतलुज यमुना लिंक) नहर को लेकर सियासत गरमा गई है। पंजाब विधानसभा में वहां के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि हम शहीद होने को तैयार हैं, लेकिन एसवाईएल के जरिए एक बूंद पानी भी किसी अन्‍य राज्‍य को नहीं देंगे। इस पर पलटवार करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसी के शहीद होने का हमें पता नहीं है, लेकिन एसवाईएल पर हरियाणा का हक है और इसे कोई रोक नहीं सकता। विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और इनेलो विधायक अभय सिंह चौटाला ने भी उनके सुर में सुर मिलाते हुए कहा कि एसवाईएल का पानी लेकर रहेंगे।

 पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर बोले, शहीद होने को तैयार लेकिन एक बूंद पानी हरियाणा को नहीं देंगे

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने एसवाईएल नहर के पानी को लेकर हरियाणा के हक में पहले ही फैसला दिया हुआ है। उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट जल्द ही पानी देने के आदेश जारी करेगा और नहर निर्माण की जिम्मेदारी एक बार फिर पहले की तरह केंद्र की किसी एजेंसी को मिल सकती है।

हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने कहा कि एसवाईएल पर हरियाणा का हक, इसे कोई रोक नहीं सकता

हरियाणा विधानसभा में विपक्ष के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि हरियाणा अपने हिस्से  की एक-एक बूंद लेकर रहेगा। वह किसी से भीख नहीं, अपना हक मांग रहे हैं। हुड्डा ने कहा कि एसवाईएल  के लिए सरकार जो भी कदम उठाएगी, वह पार्टी लाइन से ऊपर उठकर उनका साथ देने को तैयार हैं। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश सरकार पर कटाक्ष भी किया।

हुड्डा ने कहा कि जब हरियाणा का एक सर्वदलीय शिष्टमंडल राष्ट्रपति से मिलने गया था, तब उसमें वे वकील भी मौजूद थे जिन्होंने कोर्ट में एसवाईएल मामले में हरियाणा की पैरवी की थी। उनका कहना था कि नहर बनाने को लेकर सुप्रीम कोर्ट के एग्जीक्यूटिव आदेश की कोई जरूरत नहीं है। इसके बावजूद भी सरकार जानबूझकर मामला लटकाने में लगी हुई है।

यह भी पढ़ें: Punjab Assembly में सीएम अमरिंदर ने कहा-शहीद हो जाएंगे लेकिन दूसरे राज्यों को पानी नहीं देंगे

इंडियन नेशनल लोकदल के विधायक अभय सिंह चौटाला ने कहा कि मनोहर सरकार ने नहर निर्माण को लेकर अब तक कोई बड़ा कदम नहीं उठाया है। कांग्रेस को बराबर का  दोषी बताते हुए अभय सिंह चौटाला ने कहा कि दस साल के   दौरान सत्ता में रहते पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने एक बार भी एसवाईएल नहर का पानी लाने की कोशिश नहीं की। अभय चौटाला ने कहा कि सही मायनों में एसवाईएल की लड़ाई चौधरी देवीलाल ने लड़ी थी, लेकिन वर्तमान सभी पार्टियां इस मामले में अपना सियासी उल्लू सीधा करने में लगी हुई हैं।

यह भी पढ़ें: AAP MP भगवंत मान फिर विवाद में, लगा शराब पीकर पंजाब विधानसभा में आने का आरोप

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें ठप

 

यह भी पढें: Haryana Assembly में भारत माता की जय पर भिड़े भाजपा और कांग्रेस के विधायक


यह भी पढ़ें:  भगवंत मान का कैप्‍टन अमरिंदर पर हमला, कहा- सीएम आवास में किस हैसियत से रह रहीं अरुसा आलम  

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस