लखनऊ, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार बढ़ते प्रसार पर उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ लगातार अंकुश लगाने के प्रयास में हैं। मुख्यमंत्री लगभग रोज अपनी कोर टीम (टीम-11) के साथ कोरोना के साथ अनलॉक-4.0 की समीक्षा की।

लोकभवन में मंगलवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समीक्षा बैठक के बाद अफसरों को टेस्टिंग किट का बैकअप की रखने का निर्देश दिया। उन्होंने इससे पहले दवा व ऑक्सीजन सिलेंडर का बैकअप रखने को कहा था। मुख्यमंत्री ने आज पर्याप्त संख्या में टेस्टिंग किट की उपलब्धता सुनिश्चित कराये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजों तथा चिकित्सा संस्थानों में टेस्टिंग किट का बैकअप रखा जाए। जिससे कि हर प्रकार का जांच कार्य सुगमतापूर्वक सम्पन्न होता रहे। उन्होंने अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य को प्रदेश के हर जिला चिकित्सालयों, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों की व्यवस्थाओं को और सुदृढ़ बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा हर मेडिकल कॉलेजों और चिकित्सा संस्थानों की स्वास्थ्य सुविधाओं को और सुदृढ़ करें। इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने लगातार बढ़ते संक्रमण वाले लखनऊ, मेरठ, गोरखपुर, प्रयागराज, सहारनपुर तथा मुजफ्फरनगर पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी चिकित्सालयां तथा मेडिकल कॉलेजों में ऑक्सीजन सुगमतापूर्वक उपलब्ध रहे। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सभी चिकित्सालयां तथा मेडिकल कॉलेजों में ऑक्सीजन सुगमतापूर्वक उपलब्ध रहे। सभी चिकित्सालयों तथा मेडिकल काॅलेजों में ऑक्सीजन सुगमतापूर्वक उपलब्ध रहे। यह सुनिश्चित किया जाए कि ऑक्सीजन निर्धारित मूल्य पर ही मिले। किसी भी दशा में ऑक्सीजन की कालाबाजारी न होने पाए।  मुख्य सचिव कार्यालय हर दिन जिला प्रशासन से संवाद बनाकर कोविड-19 के दृष्टिगत उपचार सुविधाओं एवं अन्य व्यवस्थाओं का निरन्तर प्रभावी अनुश्रवण करे। इसके साथ स्वास्थ्य विभाग, परिवहन विभाग तथा पुलिस समन्वय से पब्लिक एड्रेस सिस्टम को संचालित करें। कोविड-19 से बचाव व यातायात सुरक्षा सम्बन्धी जानकारी पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से चैराहों तथा बाजार आदि में प्रसारित की जाए।

मुख्यमंत्री ने कोविड हेल्प डेस्क को हर जगह पर पूरी सक्रियता से संचालित करने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही मूल्य समर्थन योजना के अन्तर्गत धान की खरीद के लिए सभी तैयारियां समय से पूरी हों। उन्होंने बिजनौर के गौ-आश्रय स्थल की व्यवस्थाओं को बेहतर करने के निर्देश देने के साथ ही हर जगह पर आकाशीय बिजली गिरने से होने वाली जनहानि को न्यूनतम करने के लिए एलर्ट सिस्टम को सुदृढ़ करने को कहा है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस