चेन्नई, प्रेट्र। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम के बीच फूट डालने की कोशिश के तहत अन्नाद्रमुक से निकाले गए नेता टीटीवी दिनाकरन ने शुक्रवार को दावा किया कि उपमुख्यमंत्री ने उनसे दोस्ती के लिए संपर्क किया था। वह मुझसे मिलकर मुख्यमंत्री को हटाना चाहते थे।

दिनाकरन ने दावा किया कि पन्नीरसेल्वम ने पिछले साल जुलाई में उनसे मुलाकात की थी और एक कॉमन मित्र के जरिये इस साल सितंबर में भी फिर मुलाकात करने की इच्छा जाहिर की थी। लेकिन उन्होंने पन्नीरसेल्वम से मिलने से इन्कार कर दिया।

बता दें कि दिनाकरन अन्नाद्रमुक की अंतरिम महासचिव रहीं वीके शशिकला के भतीजे हैं। उनके दावे पर पन्नीरसेल्वम ने स्वीकार किया है कि वह गत जुलाई में दिनाकरन से मिले थे क्योंकि उन्हें उम्मीद थी कि वह सुधर गए होंगे। लेकिन उन्होंने दिनाकरन के उस दावे को पूरी तरह गलत बताया कि पलानीस्वामी का तख्तापलट कर वह खुद मुख्यमंत्री बनना चाहते थे।

dinakaran] palaniswami and paneer selven

पन्नीरसेल्वम ने कहा कि वह तीन बार मुख्यमंत्री रहे चुके हैं और अब उनकी मुख्यमंत्री बनने की कोई महत्वाकांक्षा नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि मिलने के लिए संदेश उन्होंने नहीं बल्कि दिनाकरन ने भेजा था। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि दिनाकरन लोगों के बीच भ्रम फैलाने की कोशिश कर रहे हैं।

 

Posted By: Arun Kumar Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप