लखनऊ, जेएनएन। रायबरेली में सोनिया गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़े विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह के भाई विधायक राकेश सिंह पर दल बदल कानून के तहत कार्रवाई करने की याचिका शुक्रवार को कांग्रेस ने विधान सभा अध्यक्ष को दी। 

कांग्रेस विधानमंडल दल नेता अजय कुमार लल्लू ने उप्र विधानसभा सदस्य (दल परिवर्तन के आधार पर निरहर्रता) नियमावली-1987 के तहत याचिका प्रस्तुत कर 179-हरचंदपुर विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित विधायक राकेश सिंह की सदस्यता निरस्त करने की मांग की।

उन्होंने आरोप लगाया कि राकेश सिंह ने भारतीय कांग्रेस की सदस्यता स्वेच्छा से त्याग कर भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ले ली है। राकेश के भाई दिनेश प्रताप सिंह के रायबरेली क्षेत्र से भाजपा के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़े थे। भाजपा की सभाओं में राकेश सिंह शामिल हुए व भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में कार्य करते रहे हैं। इस कारण राकेश सिंह पर दलबदल कानून के अंतर्गत कार्रवाई की करते हुए विधानसभा सदस्यता समाप्त की जाए।

उल्लेखनीय है कि विधायक राकेश के भाई दिनेश प्रताप सिंह भी कांग्रेस से बगावत कर भाजपा में शामिल हुए थे। विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह के खिलाफ कांग्रेस दलबदल कानून के अंतर्गत कार्रवाई कराने की अपील कर चुकी है और इस पर सुनवाई जारी है।

कांग्रेस व भाजपा के बीच यह टकराव खूनी मोड़ भी ले चुका है। दिनेश प्रताप के एक भाई अवधेश प्रताप सिंह जिला पंचायत अध्यक्ष है। उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर हिंसक संघर्ष हो चुका है। इसमें कांग्रेस विधायक अदिति सिंह की ओर से जानलेना हमले की रिपोर्ट भी दर्ज करायी जा चुकी है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस