लखनऊ, जेएनएन। Social distancing in CM Yogi AditynaNath Meeting : कोरोना वायरस के संक्रमण के कहर के बीच में देश के साथ ही उत्तर प्रदेश में इससे बचाव के साथ इसको बढऩे के रोकने के तमाम जतन चल रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर मोर्चे पर डटे हैं। लखनऊ में गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकारी आवास, पांच कालीदास मार्ग पर स्वास्थ्य के साथ ही नागरिक आपूर्ति विभाग के आला अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान 21 दिन के लॉकडाउन पर जनता को सुविधा देने की खातिर निर्देश भी दिया।

कोरोना वायरस के संक्रमण फैलने से रोकने को लेकर बेहद गंभीर मुख्यमंत्री की बैठकों में भी इसका असर दिखाई दे रहा है। यहां पूरी सतर्कता बरती जा रही है। बैठक चाहे लोक भवन में हो या फिर सीएम योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पर, हर जगह अब मुख्यमंत्री और अफसर एक-दूसरे से निश्चित दूरी पर बैठ रहे हैं और प्रदेश के हालातों की समीक्षा कर रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ अपसरों ने प्रदेश भर में पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के साथ ही लोगों तक आपात जरूरत पहुंचाने के लिए पूरी ताकत झोंक रखी है। खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार स्थिति पर नजर बनाए रखे हैं और पूरी कार्रवाई की मॉनीटिरिंग कर रहे हैं।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज अपने सरकारी आवास पर प्रदेश के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ की बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख््याल रखा। बैठक के दौरान उनके तथा बैठक में शिरकत कर रहे अधिकारियों की कुर्सियों के बीच काफी दूरी देखी गई।

मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कोरोना के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक में कोरोना पर प्रभावी नियन्त्रण स्थापित करने के लिए कोरोना एक्शन प्लान तैयार किया। लॉक डाउन के दौरान पान, तम्बाकू, गुटखे पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाया गया है। अब सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से ग्राम प्रधानों से संवाद स्थापित किया जा रहा है। हर जगह पर अधिकारी तथा सभी लोग गांवों में कोरोना के प्रति लोगों को जागरूक करें। उन्होंने जिला प्रशासन तथा पुलिस के अधिकारियों को संयुक्त रूप से पेट्रोलिंग करने के निर्देश दिए हैं। रैन बसेरा, धर्मशालाओं में रह रहे लोगों के लिए कुक्ड फूड की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। कालाबाजारी, जमाखोरी अथवा मुनाफाखोरी करने वालों के विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि रैन बसेरों, बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन, हवाई अड्डे के बाहर तथा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर कोई भी व्यक्ति भूखा-प्यासा न रहे।

इस दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि लोगों को घर में ही जरूरी सामान मुहैया करायें। इसके साथ ही आमजन को जरूरत की हर सुविधा मुहैया करायें। प्रदेश के हर शहर में बाजारों में भीड़ न जुटे इसलिए प्रशासन ने जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें बंद करने के सख्त निर्देश दिए हैं। ऐसे में शहरवासियों को राशन, फल-सब्जी और दवा जैसी चीजें घर में ही मुहैया कराई जाएगी। इसके लिए प्रशासन ने विक्रेताओं के नंबर जारी कर दिए हैं।

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी तथा अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी के साथ बैठक में मौजूद अधिकारियों से भी सीएम योगी आदित्नाथ ने लॉक डाउन में जनता जनार्दन के योगदान व सहयोग के लिए सभी के प्रति हृदय से आभार व्यक्त किया। उन्होंने कोरोना वायरस के प्रकोप के बावजूद डॉक्टरों सहित स्वास्थ्य, सफाई, पुलिस, बिजली व प्रशासन से जुड़े अधिकारियों और कर्मचारियों के प्रयास की सराहना की है। उन्होंने जनसेवा के लिए इन सभी का हार्दिक अभिनन्दन किया।

सीएम योगी आदित्यनाथ सभी से घरों में रहते हुए सोशल डिस्टैन्सिंग बनाए रखने की अपील भी की। उन्होंने कहा कि समस्त जनपदों में लॉकडाउन के दौरान ग्रोसरी (किराने के सामान) एवं दवाइयों की होम डिलीवरी की व्यवस्था यथाशीघ्र सुनिश्चित करायी जाये। जनपद स्तर पर होम डिलीवरी के लिए ग्रोसरी एवं मेडिकल स्टोर की डायरेक्ट्री तैयार करायी जाये तथा उन्हें जनपद एवं उत्तर प्रदेश सरकार की वेबसाइट पर डाला जाये। ग्रोसरी एवं मेडिकल शॉप में सोशल डिसटेन्सिंग की व्यवस्था बनाये रखने के लिए मार्कर लगवाए जायें। जिला प्रशासन की तरफ से अत्यावश्यक सेवायें प्रदान करने वाले कर्मियों तथा माल वाहनों के पास निर्गत कर दिये जायें। कम्यूनिटी किचन के माध्यम से मरीज के तीमारदारों तथा रैन बसेरों में रहने वाले व्यक्तियों को फूड पैकेट उपलब्ध कराने की व्यवस्था सुनिश्चित हो। 

गुरुवार को सीएम योगी आदित्यनाथ की बैठक में मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एसपी गोयल, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा, प्रमुख प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा व प्रमुख सचिव स्वास्थ्य, सूचना निदेशक मौजूद थे। यह सभी एक निश्चित दूरी पर बैठे दिखाई दिए। 

Posted By: Dharmendra Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस