पटना [स्‍टेट ब्यूरो]। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) में सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के दो बड़े विश्‍वसापात्र आपस में उलझे हुए हैं। पार्टी के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष डॉ. रघुवंश प्रसाद सिंह (Dr. Raghuvansh Prasad Singh) मंगलवार को फिर प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह (Jagdanand Singh) पर खूब भड़के। उन्होंने कहा कि आरजेडी में मिलिट्री रूल (Military Rule) वाला अनुशासन नहीं चलेगा। रघुवंश प्रसाद सिंह ने जगदानंद सिंह के काम के अंदाज पर कड़ी टिप्पणी करते हुए हाल ही में लालू प्रसाद को पत्र भी लिखा है।

मुख्यमंत्री (Chief Minister) नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के संबंध में उन्होंने कहा कि अगर वे भारतीय जनता पार्टी (BJP) का साथ छोड़कर आ जाएं तो उनके लिए अपनी पार्टी में भी झगड़ लें।

सहयोगियों के लिए जगदानंद सिंह की भाषा पर उठाए सवाल

रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को आरजेडी के विधायकों ने विधानसभा (Assembly) में नेता प्रतिपक्ष (Leader of Opposition) बनाया है। यह सिस्टम ही रहा है कि नेता प्रतिपक्ष मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार (CM Candidate) होता है। पर इसके लिए सहयोगी दलों का समर्थन भी जरूरी है। रघुवंश प्रसाद सिंह ने इस संबंध में प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के इस बयान को गलत बताया कि तेजस्‍वी को मुख्‍यमंत्री उम्‍मीदवार मानकर जिन्हें गठबंधन में रहना है रहें और जिन्हें जाना है जाएं। यह भाषा ठीक नहीं है। हम इसका विरोध करते हैं। केवल आरजेडी के चाहने से ही कोई मुख्यमंत्री बन जाएगा क्या?

कहा: हम लडऩे के लिए हैं, किसी की बात मानने के लिए नहीं

रघुवंश ने मंगलवार को वह पत्र भी मीडिया के लिए जारी किया, जिसे उन्होंने पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को लिखा है। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ताओं को बेकार कर दिया गया है। ऐसे में काफी मुश्किल आएगी। जरूरत इस बात की है कि अभी से उन्हें सक्रिय किया जाए।  हम लडऩे के लिए हैं, किसी की बात मानने के लिए नहीं। इनफैंट्री के सिपाही हैं।

रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने आवास पा दिया चूड़ा-दही भोज

इसके पहले मंगलवार को रघुवंश प्रसाद सिंह ने अपने आवास पर चूड़ा-दही का भोज भी दिया। भोज में आरजेडी के पूर्व अध्यक्ष डॉ. रामचंद्र पूर्वे सहित पार्टी के कई अन्य नेता भी शामिल हुए। इस भोज में आरजेडी नेता व बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने शिरकत नहीं की।

जेडीयू प्रदेश अध्यक्ष की टिप्‍पणी: कोई न कोई बात है जरूर

आरजेडी में मचे इस घमासान पर जनता दल यूनाइटेड (JDU) के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह से कहा कि वे किसी दल के आंतरिक मामले में कुछ अधिक नहीं बोलेंगे। हां, अगर कोई इतना वरिष्ठ नेता बोल रहा है तो कहीं न कहीं अंतर्विरोध तो जरूर है।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस