लखनऊ, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी (BSP) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने केंद्र सरकार की ओर से घोषित विशेष आर्थिक पैकेज को जमीन पर ईमानदारी से लागू करने पर जोर दिया है। उन्होंने प्रवासी मजदूरों के लिए घोषित 1,000 करोड़ रुपये के पैकेज का उप्र को सीधे लाभ दिलाने की मांग की है।

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को ट्वीट किया कि 'अभूतपूर्व कोरोना लॉकडाउन के कारण देश की चरमराई स्थिति, अव्यवस्था व ध्वस्त अर्थव्यवस्था में थोड़े सुधार के लिए केंद्र ने जो भी कदम उठाए हैं, उन पर विश्वास करते हुए बीएसपी का यही कहना है कि इसको जमीन पर ईमानदारी से लागू करने की जी-जान से कोशिश तत्काल शुरू कर देनी चाहिए। साथ ही लाचार व मजलूम करोड़ों प्रवासी मजदूरों के लिए जो 1,000 करोड़ रुपये की घोषणा की गई है, वह यूपी जैसे अति प्रभावित राज्यों को सीधे मिलनी चाहिए, ताकि यह अपने पांव पर खड़े होने का वास्तविक सहारा बन सके व गरीबों मजदूरों को आगे पलायन के लिए विवश न होना पड़े।'

आत्मनिर्भरता के लिए देश में पूंजी विकास हो : मायावती

आपके बता दें कि बुधवार को भी बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश को आत्मनिर्भर बनाने के अभियान पर प्रतिक्रिया में आलोचना करने के साथ सरकार को सलाह भी दी थी। उन्होंने कहा कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्राइवेट सेक्टर के बजाए सरकारी पहल के जरिए देश की पूंजी में विकास की ज्यादा जरूरत है। उन्होंने ट्वीट किया था कि बीएसपी का मानना है कि भारत को आत्मनिर्भर बनाने के अति-अहम मामले में प्राइवेट सेक्टर के बजाए सरकारी पहल व इसके जरिए देश की पूंजी में विकास की ज्यादा जरूरत है। इस पर ईमानदारी से अमल करने करने से ही गरीबी व बेरोजगारी सहित देश की अन्य और भी मूलभूत समस्याओं का समाधान संभव होगा।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस