कोलकाता, जागरण संवाददाता। पश्चिम बंगाल में भाजपा की गांधी संकल्प यात्रा आज से शुरू हुई। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने अपने संसदीय क्षेत्र खड़गपुर के कर्नगढ़ महामाया मंदिर से तिरंगा फहराकर इस पदयात्रा का शुभारंभ किया। यह यात्रा 26 अक्टूबर तक चलेगी।

महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर यह पदयात्रा शुरू की गई है। इसका उद्देश्य गांधी जी के आदर्श एवं सिद्धांत को आम जनता तक पहुंचा है। सांसद दिलीप घोष ने बताया कि यह यात्रा राज्य के प्रत्येक संसदीय क्षेत्र में 150 किलोमीटर की दूरी तय की करेगी।

यात्रा के दौरान सभी 42 संसदीय क्षेत्रों में 6500 किलोमीटर यात्रा तय की जाएगी। इस यात्रा में पार्टी के सांसद, विधायक, प्रदेश नेता, जिला नेता व स्थानीय नेता, कार्यकर्ता शामिल हो रहे हैं।

देशभर में यह यात्रा 2 अक्टूबर से शुरू हुई है। पश्चिम बंगाल में दुर्गापूजा के कारण इस यात्रा को विलंब से शुरू किया गया। इधर, राजनीतिक जानकारों का मानना है कि 2021 के विधानसभा चुनाव के पूर्व जनसंपर्क बढ़ाने के लिए भाजपा ने यह यात्रा शुरू की है। 

19 से 24 अक्टूबर तक सौहार्द यात्रा निकालेगी तृकां

उधर दूसरी और अगले साल होने वाले नगर निकाय चुनाव से पहले बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस जनसंपर्क अभियान को और मजबूती प्रदान करने में जुट गई है। पार्टी की ओर से 19 से 24 अक्टूबर तक राज्य भर में सांप्रदायिक सौहार्द यात्रा निकालेगी।

इसकी जानकारी तृणमूल महासचिव व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने दी। पार्थ ने कहा कि राज्य भर में उक्त अवधि के दौरान ब्लाक स्तर पर सांप्रदायिक सौहार्द यात्रा निकाली जाएगी जिसमें जाति, धर्म, संप्रदाय से इतर सभी को शामिल किया जाएगा। बता दें कि बंगाल भाजपा की ओर से राज्य भर में 6600 किलोमीटर लंबी गांधी संकल्प यात्रा निकालने की घोषणा पहले ही की गई। यात्रा की शुरुआत बुधवार से हुई जिसमें पार्टी के सांसद, विधायक और पंचायतों के प्रधान भी शामिल हुए। समझा जाता है कि तृणमूल कांग्रेस की ओर से सांप्रदायिक सौहार्द यात्रा इसके जवाब में आयोजित की जाएगी।

दिसंबर तक शेष होगा दीदी के बोलो अभियान का दूसरा चरण :

सूत्रों ने बताया कि मंगलवार को आयोजित बैठक में विभिन्न जिलों के अध्यक्ष व पार्टी के ब्लॉक कमेटी, टाउन कमेटी सदस्य शामिल हुए। बैठक में अगले साल होने वाले नगर निकाय चुनाव के मद्देनजर दीदी के बोलो अभियान के दूसरे चरण को शुरू करने को लेकर अहम निर्णय लिया गया। पार्थ ने कहा कि इसकी शुरुआत होगी जिसे दिसंबर के आखिर में शेष कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि निर्धारित समय में 10 हजार गांवों तक पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस