नई दिल्ली, [बिजेंद्र बंसल]। हरियाणा कांग्रेस के प्रधान डॉ. अशोक तंवर को हटाने की मुहिम में जुटे पूर्व मुख्‍यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को कांग्रेस की कार्यकारी राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सोनिया गांधी से भी निराशा मिली है। सोनिया गांधी ने हुड्डा से मुलाकात के दौरान उनको गुटबाजी समाप्‍त करने को कहा। ऐसे में साफ हो गया है कि हरियाणा कांग्रेस की कमान अब अकेले भूपेंद्र सिंह हुड्डा को नहीं मिलेगी।

सोनिया के रुख से हुआ साफ, अकेले हुड्डा को नहीं मिलेगी प्रदेश कांग्रेस की कमान

पूर्व सीएम हुड्डा ने 10 जनपथ पर सोनिया गांधी से मुलाकात की। इस दौरान उनके साथ प्रदेश प्रभारी राष्ट्रीय महासचिव गुलाम नबी आजाद भी मौजूद थे। प्रदेशाध्यक्ष डॉ.अशोक तंवर को हटाने की जिद पर अड़े हुड्डा को सोनिया ने इस मुलाकात में साफ तौर पर यही नसीहत दी है कि पहले प्रदेश कांग्रेस के नेता गुटबाजी दूर करें।

नई दिल्ली स्थित 10 जनपथ पर हुई हुड्डा और सोनिया गांधी की मुलाकात

करीब आधा घंटे तक हुई इस मुलाकात के बाद हुड्डा ने मीडिया से कोई बात नहीं की मगर उनके चेहरे पर खुशी के भाव नहीं थे। हुड्डा सीधे अपने 9 पंत मार्ग स्थित सरकारी आवास पर पहुंचे। यहां उन्होंने अपने नजदीकी कुछ नेताओं से मंत्रणा की और फिर शाम तक उन्होंने नई दिल्ली में पार्टी के अन्य बड़े नेताओं से भी मुलाकात का सिलसिला जारी रखा।

हुड्डा समर्थक कांग्रेस विधायक करण सिंह दलाल ने कहा कि पार्टी नेताओं की गुटबाजी दूर करने संबंधी प्रस्ताव तो रोहतक की परिवर्तन महारैली में पारित किया जा चुका है। सोनिया गांधी ने हुड्डा के इस प्रस्ताव को एक तरह से मंजूरी दी है और अब आलाकमान की तरफ से ही नेताओं के बीच समन्वय बनाने की दिशा में पहल की जाएगी। पार्टी सूत्र बताते हैं कि हुड्डा आलाकमान द्वारा नेताओं गुटबाजी दूर करने की पहल के लिए भी ज्यादा समय इंतजार नहीं करेंगे। माना जा रहा है कि शुक्रवार नई दिल्ली में राज्य कांग्रेस के सभी नेताओं के बीच प्रदेश प्रभारी गुलाम नबी आजाद सोनिया गांधी का संदेश रखेंगे।


यह भी पढ़ें: अमेरिका की गोरी मैम हुई 'अंबरसरी मुंडे' की दीवानी, मैकेनिक के प्‍यार की डोर में

सामूहिक नेतृत्व में ही विधानसभा चुनाव लड़ेगी कांग्रेस

राज्य में होने वाला विधानसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी नेताओं के सामूहिक नेतृत्व में ही लड़ेगी। अकेले हुड्डा को प्रदेश कांग्रेस की कमान दिया जाना अब संभव नहीं है। पार्टी सूत्र यह जरूर मानते हैं कि पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा को प्रदेश में चुनाव के दौरान पार्टी का बड़ा चेहरा रखा जाएगा मगर हुड्डा के साथ अशोक तंवर, कुलदीप बिश्नोई, किरण चौधरी, कुमारी सैलजा, कैप्टन अजय यादव, महेंद्र प्रताप सिंह को भी संगठन में अहम स्थान दिया जाएगा।

यह भी पढ़ेंं: कृष्ण भक्त विदेशी बाला बनी भारतीय युवक की प्रेम दीवानी, फिर जन्माष्टमी पर उठाया ऐसा कदम

रोहतक रैली के बाद तंवर ने अपनाया है कड़ा रुख

हुड्डा की रोहतक रैली के बाद प्रदेश प्रधान डॉ.अशोक तंवर ने अब कड़ा रुख अपनाया हुआ है। उन्होंने बीते दिनों यहां तक कह दिया कि हुड्डा जितना जोर उन्हें हटाने में लगा रहे हैं, यदि इतना जोर भाजपा को उखाडऩे में लगाया होता तो कांग्रेस सरकार बनाने के नजदीक होती।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


 

Posted By: Sunil Kumar Jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप