लखनऊ, जेएनएन। एशिया में रक्षा उत्पादों की सबसे बड़ी प्रदर्शनी 'डिफेंस एक्सपो 2020' बुधवार से लखनऊ में आयोजित होने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार को राजधानी की वृंदावन योजना में दोपहर डेढ़ बजे डिफेंस एक्सपो का उद्घाटन करेंगे। रक्षा उपकरणों के कारोबारियों के इस समागम में 70 से ज्यादा देशों की 1028 कंपनियां अपने उत्पादों और तकनीकों का प्रदर्शन करेंगी। इनमें 856 भारतीय और 172 विदेशी कंपनियां हैं। डिफेंस एक्सपो के दौरान रक्षा सौदों से जुड़े तकरीबन 200 से ज्यादा सहमति पत्र (एमओयू) हस्ताक्षरित होंगे। इस चार दिवसीय आयोजन में 39 देशों के रक्षा मंत्री भी शिरकत करेंगे।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को डिफेंस एक्सपो के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत जैसा देश लंबे समय तक आयातित रक्षा उपकरणों और हथियारों पर निर्भर नहीं रह सकता। हम भारत को डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में तैयार कर रहे हैं। डिफेंस एक्सपो इसके लिए बेहतरीन प्लेटफॉर्म है। आयात पर निर्भरता खत्म कर भारत को रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में डिफेंस एक्सपो निर्णायक भूमिका निभाएगा।

रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत को 2024 तक पांच ट्र्रिलियन डॉलर वाली अर्थव्यवस्था बनाने का लक्ष्य तय किया है, उसे साकार करने में भी यह आयोजन अहम भूमिका निभाएगा। भारत अभी दुनिया की छठवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। यह दशक समाप्त होने तक वह दुनिया की तीन शीर्ष अर्थव्यवस्थाओं में शुमार होगा। डिफेंस एक्सपो के इस ग्यारहवें संस्करण को राजनाथ ने अब तक का भव्यतम शो बताया और इसके सफल आयोजन की जमीन तैयार करने के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मुक्त कंठ से सराहना की।

राजनाथ सिंह ने कहा कि यह आयोजन भारत और विश्व के संबंधों को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में कामयाब होगा और उनका संसदीय क्षेत्र लखनऊ दुनिया से भारत के रिश्तों का गवाह बनेगा। डिफेंस एक्सपो में बनाया गया यूपी पैवेलियन उप्र में निवेश आकर्षित करने में कारगर साबित होगा। डिफेंस एक्सपो उप्र के नौजवानों के लिए रोजगार के प्रचुर अवसर भी सृजित करेगा।

एचएएल के 19 सीटर डॉर्नियर विमान उप्र में भरेंगे उड़ान : योगी

उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य होगा जहां स्वदेशी विमानों को यात्री सेवा के लिए इस्तेमाल किया जाएगा। सरकार एयर कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) द्वारा निर्मित डॉर्नियर विमानों को खरीदेगी। राज्य सरकार फिलहाल एचएएल से दो डॉर्नियर विमान खरीदेगी। इस 19 सीटर विमान को खरीदने के लिए सरकार और एचएएल के बीच करार होगा। डिफेंस एक्सपो की पूर्व संध्या पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि डॉर्नियर विमानों का इस्तेमाल अभी तक भारतीय वायु सेना या कोस्ट गार्ड करते थे लेकिन पहली बार इन्हें यात्री सेवा के लिए उप्र में इस्तेमाल किया जाएगा। इस जहाज का इस्तेमाल लखनऊ-वाराणसी, लखनऊ-बरेली, लखनऊ-आगरा और अन्य शहरों के बीच एयर कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए किया जाएगा।

यूपी कॉप एप व एटीएस के हथियारों का होगा प्रदर्शन

डिफेंस एक्सपो में यूपी पुलिस भी अपनी ताकत का एहसास करवाएगी। यूपी कॉप एप, 112 आपात सेवा और एटीएस के हथियारों का प्रदर्शन किया जाएगा। लोगों को बताया जाएगा कि यूपी कॉप एप के माध्यम से किस तरह बिना थाना व चौकी जाए घर बैठे शिकायत दर्ज करने की व्यवस्था की गई है। यूपी एटीएस द्वारा प्रयोग की जा रही स्नाइपर, एमपी पांच, क्वाड बाइक, रोप लांचर, पावर एसेंडर और आधुनिक फाइबर आप्टिकल कैमरे प्रदर्शित किए जाएंगे। वहीं कुंभ जैसे बड़े आयोजनों को यूपी पुलिस ने किया तरह तकनीक का प्रयोग कर बेहतर ढंग से सफल बनाया यह भी दर्शाया जाएगा। वहीं राष्ट्र विरोधी तत्वों के दांत किस तरह खट्टे किए गए यह सबकुछ स्टॉल पर दर्शाया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस