रामपुर, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के सांसद तथा मुलायम सिंह यादव व अखिलेश यादव सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे आजम खां को मुसीबतों ने चारों ओर से घेर लिया है। रामपुर जिला प्रशासन ने आजम खां को भू-माफिया घोषित किया है। आजम खां के खिलाफ 80 केस दर्ज हैं। वह देश के पहले ऐसे सांसद हैं, जिनके खिलाफ इतने मामले दर्ज हैं।

जमीनों पर अवैध कब्जा के साथ ही आजम खां के खिलाफ भैंस, किताब व बिजली चोरी के मुकदमे भी दर्ज हो चुके हैं। इसके बाद अब गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है। सिर्फ एक ही नहीं तीन मामलों में आजम खां के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किए गए हैं। इनमें भाजपा नेता जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने का भी मामला शामिल है। एसपी डॉ. अजयपाल शर्मा ने बताया कि आजम के खिलाफ तीन मामलों में गिरफ्तारी वारंट जारी किए गए हैं। इनमें एक जयाप्रदा के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने का मामला है।

इसके साथ ही पानी और बिजली चोरी के आरोप में भी वह फंस गए हैं। उनके और उनकी पत्नी राज्यसभा सदस्य डॉ. तजीन फात्मा के हमसफर रिसॉर्ट में बिजली और पानी की चोरी पकड़ी गई है। इस पर तजीन के खिलाफ बिजली चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। रिसॉर्ट की बिजली काट दी गई है। इसके अलावा नलकूप चालक कलबे अली को निलंबित कर दिया गया है। चकरोड की जमीन मुहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी को देने के मामले में कानूनगो महिपाल सिंह को भी निलंबित कर दिया गया है।

जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह से भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने शिकायत की थी कि आजम खां के रिसॉर्ट में बिजली चोरी की जा रही है। यहां सरकारी धन से दो नलकूप लगे हैं। इनसे पानी की सप्लाई सिर्फ रिसॉर्ट और खेतों के लिए की जाती है। रिसॉर्ट में 50 से ज्यादा एसी लगे हैं लेकिन, कनेक्शन सिर्फ पांच किलोवाट का है। इसके बाद डीएम के आदेश पर सिंचाई और बिजली विभाग के अफसरों की टीम ने उपजिलाधिकारी प्रेम प्रकाश तिवारी के नेतृत्व में गुरुवार को रिसॉर्ट में छापा मारा। जहां शिकायत सही पाई गई।

बिजली विभाग के अधिशासी अभियंता भीष्म कुमार तोमर ने बताया कि रिसॉर्ट में पांच किलोवाट का कनेक्शन आजम की पत्नी के नाम है। इसके बाद भी खंभे से सीधे केबल डालकर बिजली चोरी की जा रही थी। इसके लिए शहर कोतवाली में तजीन फात्मा के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। जिलाधिकारी ने बताया कि रिसॉर्ट के अंदर दो नलकूप लगे हैं। एक खेतों की सिंचाई के लिए है और दूसरा पानी की टंकी के लिए। टंकी गांव के लिए बनी है लेकिन, ग्रामीणों को पानी नहीं दिया जा रहा है। इसी तरह सिंचाई के लिए लगे नलकूप से सिर्फ आजम के खेतों की सिंचाई हो रही है। 

Posted By: Dharmendra Pandey

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस