कोलकाता, जागरण संवाददाता। Adhir Ranjan Chowdhury In Midnapore. लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी विवादित बयान के चलते एक बार फिर से चर्चा में है। इस बार उन्होंने राज्य के दो संवैधानिक प्रमुखों पर सीधा हमला किया है।

राज्य सरकार व राज्यपाल के बीच जारी खींचतान पर टिप्पणी करते हुए अधीर रंजन चौधरी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्यपाल जगदीप धनखड़ को सर्कस के दो जोकर करार दिया है।

पश्चिम मेदिनीपुर युवा कांग्रेस की ओर से शुक्रवार को मेदिनीपुर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी ) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के खिलाफ आयोजित रैली में शामिल होने के लिए अधीर रंजन चौधरी पहुंचे थे। वहां पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि राज्य के दो भवन, राजभवन (राज्यपाल निवास) और नवान्न भवन (राज्य सचिवालय) में सर्कस चल रहा है। दोनों भवनों का नेतृत्व सर्कस के दो जोकर कर रहे हैं।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल का राज्यपाल नियुक्त होने के बाद से जगदीप धनखड़ व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच लगातार तनाव बना हुआ है। कई मुद्दों पर दोनों के मतभेद खुलकर सामने आए हैं। राज्य सरकार ने जहां राज्यपाल पर राज्य में समानांतर सरकार चलाने का आरोप लगाया है वहीं राज्यपाल ने सभी आरोपों का खंडन किया है। इससे पहले सेना प्रमुख से लेकर श्रीनगर में डीएसपी देवेंद्र सिंह को लेकर विवादित बयान दिया था।

 

साल की सबसे बड़ी जोकर है राजग सरकार : अधीर रंजन

सीएए और एनआरसी पर बढ़ते विवाद के बीच राजनीतिक पारा भी तेजी से चढ़ रहा है। लोकसभा में कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने गत शनिवार को राजग सरकार को साल की सबसे बड़ी जोकर करार दिया।

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी को 2019 का सबसे बड़ा झूठा कहा था। अपने बयान में अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि जिस तरह से देश की आर्थिक स्थिति तेजी से नीचे जा रही है, जल्द ही केंद्र में राजग सरकार की जगह एनपीए सरकार होगी। इसके साथ ही उन्होंने प्रकाश जावड़ेकर को वाद-विवाद की चुनौती देते हुए कहा कि एक बार हमारे साथ चर्चा कर लें, फिर पता चल जाएगा कि झूठ राहुल गांधी बोल रहे हैं या नरेंद्र मोदी।

गुरुवार को राहुल गांधी के एक ट्वीट को लेकर पूरा भाजपा खेमा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष पर हमलावर था। प्रकाश जावड़ेकर ने बकायदा संवाददाता सम्मेलन कर राहुल गांधी को 2019 का सबसे बड़ा झूठा बताया था। उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी की पहली प्राथमिकता उनका परिवार है, कांग्रेस उसके बाद है। राहुल गांधी को हर चीज में टैक्स नजर आता है। असल में यही कांग्रेस की संस्कृति है। जावड़ेकर ने आरोप लगाया था कि कांग्रेस देश में घुसपैठियों को संरक्षण देती है, यही उसका असली चरित्र है। कांग्रेस चाहती है कि घुसपैठिए उन्हें वोट दें।

बंगाल की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Sachin Kumar Mishra