जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। रूस के शहर व्लादिवोस्तोक में सालाना शीर्षस्तरीय बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2001 में अपनी पहली रूस यात्रा को भी याद किया। तब मोदी पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के दल में बतौर गुजरात के मुख्यमंत्री उपस्थित थे।

पीएम मोदी ने फोटो को पुतिन के साथ साझा किया
प्रधानमंत्री ने बुधवार को यह फोटो रूसी राष्ट्रपति पुतिन के साथ द्विपक्षीय वार्ता के बाद साझा किए। इन फोटो के साथ मोदी ने ट्वीट किया कि,'राष्ट्रपति पुतिन से मेरी पहली मुलाकात 2001 में हुई थी। तब मैं तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के साथ मास्को आया था। तब मैं गुजरात का मुख्यमंत्री था।'

बतौर मित्र मुझे बराबरी का दर्जा दिया
उन्होंने आगे बताया कि पुतिन ने मुझे तब इस बात का अहसास नहीं कराया कि मैं कम महत्वपूर्ण हूं, या मैं एक छोटे से राज्य से हूं या मैं नया हूं। उन्होंने बतौर मित्र मुझे बराबरी का दर्जा दिया। इससे हमारी दोस्ती के रास्ते खुल गए।'

गुजरात के बारे में वार्ता हुई थी
उन्होंने कहा कि हमने नासिर्फ हमारे राज्यों के बारे में बातें की हैं बल्कि विभिन्न मुद्दों, हमारे शौक, वैश्विक मुद्दों पर भी चर्चाएं की हैं। हम एक साझीदार के तौर पर खुलकर बातें करते हैं। वह बहुत रुचिकर बातें करते हैं और मुझे यह स्वीकार करने में कोई झिझक नहीं कि उनसे बात करके बहुत जानकारी मिलती है।

वाजपेयी और पुतिन की सालाना शिखर बैठक
उल्लेखनीय बात यह है तब वाजपेयी और पुतिन ने सालाना शिखर बैठक का आगाज किया था। मोदी ने उस दौरे को याद करते हुए चार फोटो भी माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर साझा किए। इनमें दो फोटो 2001 के दौरे और दो मौजूदा रूस दौरे की हैं।

इसमें एक फोटो में वह वाजपेयी व पुतिन के पीछे खड़े हैं जबकि एक अन्य फोटो में मोदी द्विपक्षीय सहयोग के समझौते पर हस्ताक्षर कर रहे हैं। मोदी और पुतिन वर्ष 2014 से ही लगातार द्विपक्षीय और बहुपक्षीय बैठकों में मिल रहे हैं।

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप