नई दिल्ली, एजेंसी। यूपी विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश का सियासत गर्म होते जा रही है। इस सियासी रण में अब भोजपुरी ट्रैक की एंट्री हुई है। भोजपुरी गानों के जरिए प्रदेश की राजनीति को एक अलग ही मोड़ दिया जा रहा है। दरअसल, कुछ दिन पहले भाजपा सांसद व भोजपुरी फिल्म स्टार रवि किशन के 'यूपी में सब बा' गाने को सीएम योगी आदित्यनाथ ने रिलीज किया था। इसके जवाब में भोजपुरी गायिका नेहा सिंह राठौर ने 'यूपी में का बा' गाना रिलीज करके प्रदेश सरकार पर हमला बोला है।

नेहा सिंह राठौर का यह गाना रवि किशन के 'यूपी में सब बा' के एक दिन बाद ही रिलीज किया गया है। नेहा राठौर ने अपने गाने में प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए लखीमपुर खीरी कांड, हाथरस कांड जैसी घटनाओं का जिक्र किया है। इस गाने को यूट्यूब व ट्विटर पर पोस्ट किया गया है।

सांसद रवि किशन ने गाया यूपी में सब बा

सोशल मीडिया पर इसका टीजर और पोस्टर पहले से ही छाया हुआ है। इस गीत में उत्तर प्रदेश की उपलब्धियों के बारे में बताया गया है। गीत में कहा गया है- जे कब्बो ना रहल अब बा, यूपी में सब बा। इस गीत में फर्टिलाइजर, गोरखपुर एम्स, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे जैसी उपलब्धियों के साथ माफिया के खिलाफ कार्रवाई, गरीबों को राशन जैसी सरकारी योजनाओं का भी जिक्र है। अयोध्या राम मंदिर और काशी कॉरिडोर भी इस गीत का हिस्सा है। गायक रवि किशन भगवा धारण किए हुए अपने अंदाज में हर हर महादेव भी करते नजर आ रहे हैं। रवि किशन के प्रशंसक काफी समय से इस गीत का इंतजार कर रहे हैं।

नेहा सिंह राठौर की गीत अब यूपी में का बा

रवि किशन के गाने के कुछ ही घंटों बाद नेहा सिंह राठौर ने यूपी में का बा गाना रिलीज कर दिया। इसे रविवार सुबह अपलोड किया गया। गानें में नेहा कहती हैं- "कोरोना से लाखन मर गईल ले, लाशन से गंगा भर गईल बे, कफन नोचत कुकुर बिलार बा, अई बाबा, यूपी में का बा" इसके अलावा नेहा इस गाने में लखीमपुर खीरी कांड का भी जिक्र किया है। उन्होंने गाने में कहा- "मंत्री का बेटुवा बड़ी रंगदार बा, किसानन कै छाती पे रौंदत मोटर कार बा, अई चौकीदार, बोले के जिम्मेदार बा?" इसके अलावा गानें में कई घटनाओं का जिक्र है। नेहा, रवि किशन के चर्चित डॉयलाग "जिंदगी झंडवा, फिर भी घंमंडवा" से गाने को खत्म करती हैं।

Edited By: Sanjeev Tiwari